डीजे गर्ल को मोहरा बनाकर डॉक्टर का हनीट्रैप, मंत्री को फंसाने की साजिश से पहले कई को ब्लैकमेल कर चुका मास्टरमाइंड, गैंग लंबे समय से एक्टिव

Honeytrap of doctor by making DJ girl a pawn, mastermind blackmailing many before plotting to implicate minister, gang active for a long time
Share

जोधपुर (कार्यालय संवाददाता)। मॉडल के जरिए राजस्व मंत्री रामलाल जाट को हनीट्रैप में फंसाने की कोशिश करने वाली गैंग लंबे समय से एक्टिव है। राजस्व मंत्री से पहले यह कई लोगों को ब्लैकमेल कर चुकी है। गैंग का मास्टरमाइंड अक्षत है, जो जयपुर में डॉक्टर को हनीट्रैप में फंसाकर 1 करोड़ वसूल चुका है। इसके लिए उसने एक डीजे गर्ल को मोहरा बनाया था। एक महिला के साथ मिलकर 33 लोगों की गैंग बनाई थी। पुलिस ने बताया कि भीलवाड़ा का रहने वाला अक्षत शर्मा पेशेवर ब्लैकमेलर है। डॉक्टर को हनीट्रैप में फंसाकर 2 करोड़ की डील की थी। इसके बाद 1 करोड़ में सौदा तय हुआ था। रूपए नहीं देने पर डॉक्टर पर रेप का मामला दर्ज करा दिया था। डॉक्टर को जेल भी जाना पड़ा था। कोर्ट में हनीट्रैप में फंसाने वाली लड़की रेप से मुकर गई थी। एसओजी के पास मामला पहुंचा तो इस गैंग का खुलासा हुआ था।

मरीज बनाकर ले गया था

दरअसल, अक्षत अपनी पत्नी का इलाज कराने डॉक्टर की पत्नी के पास ले गया था। उसे लगा कि डॉक्टर दंपती के पास खूब पैसे हैं तो उसने प्लान बनाया। अक्षत ने डीजे गर्ल को ब्लैकमेलिंग के लिए तैयार किया। अक्षत डॉक्टर के पास डीजे गर्ल को मरीज बनाकर ले गया। डिप्रेशन का मरीज बताकर डॉक्टर से नजदीकियां बढ़ा ली और अपने जाल में फंसा लिया था। इसके बाद डॉक्टर को पुष्कर ले गए, यहां एक होटल में रात बिताई। यहां डॉक्टर की अश्लील फोटो लिए और ब्लैकमेल करना शुरू किया। अक्षत ने डॉक्टर से 2 करोड़ रूपए की डिमांड की। डॉक्टर ने रूपए देने से मना कर दिया। रूपए नहीं दिए तो युवती से रेप का मामला दर्ज करवा दिया। इस मामले में डॉक्टर को जेल भी जाना पड़ा।

1 करोड़ देने के बाद डीजे गर्ल कोर्ट में मुकर गई

मामले के बाद डॉक्टर के घरवालों ने गैंग को 1 करोड़ 5 लाख रूपए दे दिए थे। इसके बाद हैनीट्रैप में फंसाने वाली लड़की कोर्ट में रेप से मुकर गई। डॉक्टर ने जेल से बाहर आने के बाद मामला दर्ज करा दिया। जांच एसओजी तक पहुंची तो 24 दिसंबर 2016 को इस गैंग का भंडाफोड हुआ। अक्षत समेत 33 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इसके बाद 2019 में भी एक ऐसे मामले में अक्षत को गिरफ्तार हो चुका है।

एक लड़की के साथ मिलकर बनाई गैंग

बताया जा रहा है कि कुछ सालों पहले एक लड़की जयपुर में जॉब ढूंढने आई थी। अक्षत उसके कॉन्टैक्ट में आया। इसके बाद इन लोगों ने मिलकर गैंग बनाई। इसमें महिला भी शामिल थी। फिर ऐसे ही मामले में पुलिस ने अक्षत और दीपाली को गिरफ्तार किया है। जेल से बाहर आने के बाद इस बार उसने दीपाली को विश्वास में लेकर जोधपुर की मॉडल को फंसाया और राजस्व मंत्री रामलाल जाट को हनीट्रैप में फंसाने की साजिश रची।


Share