भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त

Heavy rain disrupted life
Share

मुंबई। महाराष्ट्र में शुक्रवार को मुंबई, पुणे, ठाणे और पालघर सहित कई अन्य जिलों में भारी बारिश हुई। भारी बारिश में जलभराव की वजह से वाहनों की रफ्तार थम गई। लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा। पुणे में भारी बारिश की वजह से मुला मुथा नदी का जलस्तर बढ़ गया है। वहीं, निचले इलाकों में कई लोगों के घरों में पानी घुस गया।

समाचार एजेंसी के मुताबिक, खडकवासला बांध से 22880 क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद बाबा भिड़े ब्रिज जलमग्न हो गया। लगातार भारी बारिश से ठाणे के कई इलाकों में जलभराव हो गया है। ठाणे रेलवे स्टेशन पर कुछ रेलवे ट्रैक भी जलमग्न हो गए। पालघर के वसई में मुंबई-अहमदाबाद राजमार्ग के पास भारी बारिश के बाद जलभराव हुआ।

मुंबई, ठाणे और पालघर जिलों में भारी बारिश से कई निचले इलाकों में पानी भर गया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। प्रशासन के अनुसार, जलजमाव और कुछ क्षेत्रों में पेड़ गिरने के अलावा किसी प्रकार की अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। अधिकारियों ने कहा कि मुंबई-अहमदाबाद और मुंबई-नासिक राजमार्गों पर सड़कों और गड्ढों की खराब स्थिति के कारण बारिश के बीच यातायात बाधित रहा।

ठाणे नगर निगम के क्षेत्रीय आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ (आरडीएमसी) के कर्मियों और दमकलकर्मियों ने बताया कि ठाणे शहर में कई स्थानों पर जलभराव हुआ। आरडीएमसी प्रमुख अविनाश सावंत ने कहा कि घोडबंदर रोड पर चीतलसर पुलिस थाने के सामने की सड़क पूरी तरह से जलमग्न हो गई । भारी बारिश की वजह से जिला प्रशासन ने सपगांव पुल के पास रहने वाले लोगों को सतर्क कर दिया है। अधिकारियों ने बताया कि ठाणे शहर में दोपहर 1.30 बजे तक 66.28 मिमी बारिश हुई, जबकि पिछले एक घंटे में 22.86 मिमी बारिश दर्ज की गई। जिले में कुंडलिका, उल्हास और कालू नदियां भारी बारिश के कारण खतरे के निशान को पार कर चुकी हैं।


Share