हरिवंश दोबारा राज्यसभा के उप सभापति निर्वाचित

हरिवंश दोबारा राज्यसभा के उप सभापति निर्वाचित
Share

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार जनता दल यूनाइटेड के नेता हरिवंश को आज सर्वसम्मति से राज्यसभा का उप सभापति निर्वाचित घोषित किया गया।

हरिवंश के समक्ष विपक्ष ने राष्ट्रीय जनता दल के मनोज झा को अपना उम्मीदवार बनाया था। झा की उम्मीदवारी के समर्थन में सदन में प्रस्ताव तो पेश किया गया लेकिन विपक्ष ने मतदान की मांग नहीं की इसलिए हरिवंश को सर्वसम्मति से इस पद पर चुन लिया गया।

हरिवंश दोबारा सदन के उप सभापति चुने गये हैं। उनका कार्यकाल हाल ही में समाप्त हुआ था और वह दोबारा उच्च सदन के लिए चुने गये थे। उनका कार्यकाल समाप्त होने के बाद से उपसभापति का पद रिक्त था।

सभापति एम वेंकैया नायडू ने उप सभापति चुनाव की प्रक्रिया शुरू करते हुए सदन को बताया कि उप सभापति के चुनाव के लिए उन्हें दो उम्मीदवारों के पक्ष में प्रस्ताव मिले हैं। इसके बाद भारतीय जनता पार्टी के जगत प्रकाश नड्डा ने हरिवंश को उपसभापति निर्वाचित करने का प्रस्ताव पेश किया और सदन के नेता थावरचंद गेहलोत ने इसका समर्थन किया। सभापति ने बताया कि लोकजनशक्ति के रामविलास पासवान और शिरोमणि अकाली दल के नरेश गुजराल ने भी हरिवंश क समर्थन किया है।

राज्यसभा में मोदी ने सुनाया हरिवंश के जूते का किस्सा

नई दिल्ली। राज्यसभा के उपसभापति का चयन हो चुका है। इस बार भी एनडीए उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह को राज्यसभा का उपसभापति चुना गया। सदन में मौजूद प्र.म. मोदी ने भी हरिवंश नारायण सिंह की तारीफ की। उन्होंने कहा कि मैं हरिवंश जी को दूसरी बार राज्यसभा के उपसभापति चुने जाने पर सदन और देशवासियों की तरफ से बधाई देता हूं। प्र.म. मोदी ने आगे कहा कि इस बार यह सदन अपने इतिहास में सबसे अलग और विषम परिस्थितियों में संचालित हो रहा है। कोरोना के कारण जैसी परिस्थितियां हैं, उसमें ये सदन काम करे, देश के लिए जरूरी जिम्मेदारियों को पूरा करे, यह हमारा कर्तव्य है।


Share