हार्दिक-पंत ने 8 साल बाद अंग्रेजों के घर में जिताई वनडे सीरीज,पंत का तूफानी शतक, हार्दिक ने 4 विकेट लेने के बाद बल्लेबाजी में जड़ा अर्धशतक, पंत ने लगाया जीत का चौका

हार्दिक-पंत ने 8 साल बाद अंग्रेजों के घर में जिताई वनडे सीरीज,पंत का तूफानी शतक, हार्दिक ने 4 विकेट लेने के बाद बल्लेबाजी में जड़ा अर्धशतक, पंत ने लगाया जीत का चौका
Share

मैनचेस्टर (एजेंसी)। हार्दिक पंड्या के ऑलराउंड प्रदर्शन और ऋषभ पंत के पहले वनडे शतक की बदौलत टीम इंडिया ने तीसरे वनडे मैच में इंग्लैंड को 5 विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही भारत ने 3 मैचों की सीरीज को 2-1 से अपने नाम कर लिया। भारत ने 8 साल बाद इंग्लैंड को उसके घर में वनडे सीरीज में हराया है। तीसरे वनडे में इंग्लैंड की टीम टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए 45.5 ओवर में 259 रन के स्कोर पर ऑलआउट हो गई। हार्दिक ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए। जवाब में भारत ने 42.1ओवर में 5 विकेट खोकर टारगेट हासिल कर लिया। पंत 113 गेंदों पर 125 रन बनाकर नाबाद रहे। हार्दिक पंड्या ने 71 रनों की पारी खेली।

धवन-रोहित-विराट के फेल होने के बाद संभाली पारी चैलेंजिंग टारगेट का पीछा करते हुए भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही। टीम ने 38 रन के स्कोर तक 3 और 72 रन के स्कोर तक चार विकेट गंवा दिए। शिखर धवन 1, कप्तान रोहित शर्मा और विराट कोहली 17-17 रन बनाकर आउट हो गए। सूर्यकुमार यादव भी 16 रन ही बना सके। इसके बाद पंत और हार्दिक ने पांचवें विकेट की साझेदारी में 133 रन जोड़कर भारत को जीत के ट्रैक पर ला दिया। हार्दिक जब आउट हुए तब भारत का स्कोर 205 रन हो चुका था। इसके बाद पंत ने चौकों की बौछार करते हुए टीम इंडिया को जीत दिला दी।

इससे पहले इंग्लैंड की शुरूआत खराब रही। मोहम्मद सिराज ने जसप्रीत बुमराह की कमी पूरी होने नहीं दी। उन्होंने पारी के दूसरे ओवर में इंग्लैंड को दो झटके दिए। यह दोनों विकेट 12 के कुल स्कोर पर गिरे। सिराज ने पहले जॉनी बेयरस्टो को श्रेयस अय्यर के हाथों कैच कराया। इसके बाद ओवर की आखिरी गेंद पर जो रूट को स्लिप में रोहित शर्मा के हाथों कैच कराया। रूट और बेयरस्टो दोनों बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। यह ओवर डबल विकेट मेडन ओवर रहा।

इसके बाद बेन स्टोक्स ने जेसन रॉय के साथ मिलकर इंग्लैंड की पारी संभाली। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 47 गेंदों पर 54 रन की साझेदारी निभाई। रॉय अर्धशतक से चूक गए और 31 गेंदों पर 41 रन बनाकर आउट हुए। हार्दिक पांड्या ने रॉय को ऋषभ पंत के हाथों कैच कराया। इसके बाद हार्दिक ने बेन स्टोक्स को भी आउट किया। स्टोक्स 29 गेंदों पर 27 रन बनाकर आउट हुए। हार्दिक ने उनका कैच अपनी ही गेंद पर लपका।

चार विकेट गिरने के बाद मोईन अली ने कप्तान जोस बटलर के साथ मिलकर पारी संभालनी चाही। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 84 गेंदों पर 75 रन की साझेदारी निभाई। मोईन 44 गेंदों पर 34 रन बनाकर आउट हुए। रवींद्र जडेजा ने मोईन अली को विकेटकीपर ऋषभ पंत के हाथों कैच कराया। इस बीच बटलर ने वनडे करियर का 22वां अर्धशतक जड़ा। हालांकि, अर्धशतक लगाने के बाद वह ज्यादा देर तक मैदान पर नहीं टिक सके।

37वें ओवर में हार्दिक ने इंग्लैंड को दो झटके दिए। उन्होंने लियाम लिविंगस्टोन और बटलर की 49 रन की साझेदारी को तोड़ा। पांड्या ने पहले लिविंगस्टोन को बाउंड्री पर रवींद्र जडेजा के हाथों कैच कराया। इससे दो गेंद पहले लिविंगस्टोन ने एक छक्का लगाया था। फिर से सिक्स लगाने के चक्कर में लिविंगस्टोन अपना विकेट गंवा बैठे। लिविंगस्टोन ने 31 गेंदों पर 27 रन की पारी खेली। इसके बाद हार्दिक ने ओवर की आखिरी गेंद पर बटलर को पवेलियन भेजा। वह 80 गेंदों पर 60 रन बनाकर आउट हुए। जडेजा ने बटलर का बेहतरीन कैच लपका। अपनी पारी में बटलर ने तीन चौके और दो छक्के लगाए।

इसके बाद डेविड विली और क्रेग ओवरटन ने पारी संभालते हुए 48 रन की साझेदारी कर डाली। इस साझेदारी को युजवेंद्र चहल ने तोड़ा। चहल ने विली को सूर्यकुमार यादव के हाथों कैच कराया। वह 15 गेंदों पर 18 रन बना सके। चहल ने इसके बाद ओवरटन को कोहली के हाथों कैच कराया। ओवरटन 32 रन बना सके। रीस टॉप्ले को क्लीन बोल्ड कर चहल ने इंग्लैंड की पारी को 259 रन पर समेट दिया। टॉप्ले खाता भी नहीं खोल सके। भारत की ओर से हार्दिक और चहल के अलावा सिराज ने दो  विकेट झटके। वहीं, जडेजा को एक विकेट मिला।


Share