कपड़ों पर फिलहाल नहीं बढ़ेगा जीएसटी, जीएसटी की दर 5% बरकरार रखने का जीएसटी परिषद का फैसला: सीतारमण

Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद ने कपड़ों पर कर की दर को पहली जनवरी 2022 से 5 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने के अपने पहले के निर्णय को शुक्रवार को स्थगित कर दिया।  इस निर्णय से कपड़ों पर जीएसटी की दर 5 प्रतिशत बनी रहेगी।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जीएसटी परिषद की राजधानी में हुई 46वीं बैठक के निर्णय की जानकारी देते हुए संवाददाताओं से कहा, कपड़े पर जीएसटी की दर पर यथास्थिति बनाये रखने का फैसला किया गया है।

उन्होंने कहा कि कपड़ा क्षेत्र पर जीएसटी बढ़ाने का फैसला पूरी चर्चा के बाद किया गया था जिसका उद्देश्य कपड़ा उत्पादों पर शुल्क के उल्टे ढांचों को ठीक करना था, जिसमें कच्चे या मध्यवर्ती माल पर कर की दर तैयार माल से अधिक होती हैं।

वित्त  मंत्री ने कहा, आज भी सभी लोग मानते हैं कि कपड़ों पर उल्टे शुल्क ढांचे को ठीक करने की जरूरत है।

उन्होंने आज के फैसले के औचित्य के बारे  में पूछे जाने पर कहा कि उद्योग संगठनों का कहना था कि जीएसटी की दर 5 से बढ़ाकर 12 फीसदी करने से इकाइयां असंगठित क्षेत्र में प्रवृत्त होंगी और  कुछ एक सस्ते टेक्सटाइल उत्पादों के दाम बढ़ जायेंगे। वित्त मंत्री ने कहा कि अन्य क्षेत्र के मुकाबले कपड़ा क्षेत्र पर कर ढांचे का ताना-बाना बहुत जटिल होता है।


Share