GSLV-एफ10 पृथ्वी अवलोकन उपग्रह को इच्छित कक्षा में प्रक्षेपित करने में विफल रहा

GSLV-एफ10 पृथ्वी अवलोकन उपग्रह को इच्छित कक्षा में प्रक्षेपित करने में विफल रहा
Share

GSLV-एफ10 पृथ्वी अवलोकन उपग्रह को इच्छित कक्षा में प्रक्षेपित करने में विफल रहा- भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) का GSLV-F10 रॉकेट, जो गुरुवार, 12 अगस्त, 2021 की सुबह चेन्नई से लगभग 100 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से प्रक्षेपित हुआ, पृथ्वी अवलोकन उपग्रह EOS-3 को अभीष्ट में लॉन्च करने में विफल रहा। की परिक्रमा।

इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने कहा कि “क्रायोजेनिक चरण में एक तकनीकी विसंगति देखी गई और मिशन पूरा नहीं किया जा सका।”

इसरो ने इससे पहले ट्वीट कर कहा था, “जीएसएलवी-एफ10 ने स्पेसपोर्ट से सफलतापूर्वक उड़ान भरी थी”।

इसका उद्देश्य ईओएस-03 को भूस्थिर कक्षा में स्थापित करना था। उपग्रह से लगातार अंतराल पर रुचि के बड़े क्षेत्र की वास्तविक समय की इमेजिंग प्रदान करने की उम्मीद की गई थी, जिसका उपयोग प्राकृतिक आपदाओं, प्रासंगिक घटनाओं और किसी भी अल्पकालिक घटनाओं की त्वरित निगरानी के लिए किया जा सकता है।

इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने घोषणा की कि “क्रायोजेनिक चरण में एक तकनीकी विसंगति देखी गई थी और मिशन पूरा नहीं किया जा सका।” इसरो ने पहले ट्वीट किया था कि GSLV-F10 ने स्पेसपोर्ट से सफलतापूर्वक उड़ान भरी थी।


Share