परमबीर सिंह का बड़ा आरोप – गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सचिन वझे से हर माह 100 करोड़ मांगे थे

मुंबई के IPS परमबीर सिंह का एंटीलिया बम जांच के बीच हुआ तबादला
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। मुंबई पुलिस के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने महाराष्ट्र  के गृह मंत्री अनिल देशमुख पर कई गंभीर आरोप लगाएं हैं। उन्होंने कहा है कि सचिन वझे को गृहमंत्री अनिल देशमुख का संरक्षण था और उन्होंने वझे से हर महीने 100 करोड़ रूपए जमा करने को कहा था। इन सब शिकायतों को लेकर परमबीर सिंह ने उद्धव ठाकरे को एक चि_ी भी लिखी थी। चि_ी में परमबीर ने लिखा, आपको बताना चाहता हूं कि महाराष्ट्र सरकार के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सचिन बजे को कई बार अपने आधिकारिक बंगले ज्ञानेश्वर में बुलाया और फंड कलेक्ट करने के आदेश दिए। उन्होंने यह पैसे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नाम पर जमा करने के लिए कहा। इस दौरान उनके पर्सनल सेक्रेटरी मिस्टर पलांडे भी वहां पर मौजूद रहते थे। गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सचिन बजे को हर महीने 100 करोड़ रूपए जमा करने का टारगेट दिया था।

परमबीर ने आगे लिखा, मैंने इस मामले को लेकर डिप्टी चीफ मिनिस्टर और एनसीपी चीफ शरद पवार को भी ब्रीफ किया है। मेरे साथ जो भी घटित हुआ या गलत हुआ इसकी जानकारी मैंने शरद पवार को भी दी है।

देशमुख ने बार-रेस्टोरेंट से फंड कलेक्ट करने को कहा

गृह मंत्री ने सचिन वझे से कहा था कि मुंबई के 1750 बार रेस्टोरेंट और अन्य प्रतिष्ठानों से 2 से ढाई लाख रूपए कलेक्ट करके यह टारगेट आसानी से हासिल किया जा सकता है। उन्होंने कहा था कि ऐसा करके 40 से 50 करोड़ रूपए आसानी से जमा किए जा सकते हैं। परमबीर ने लिखा, सचिन बझे उसी दिन मेरे पास आए और यह चौंकाने वाला खुलासा किया।


Share