घरेलू क्रिकेट के लिए खुशखबरी, दो फेज में खेले जाएंगे रणजी ट्रॉफी के मैच

Good news for domestic cricket, Ranji Trophy matches will be played in two phases
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)।  कोरोना वायरस की तीसरी लहर के बीच भारत के घरेलू क्रिकेटर्स के लिए अच्छी खबर आई है। असल में पिछले दिनों भारत में बढ़ते कोरोना मामलों के चलते ऐसा लग रहा था कि इस साल भी रणजी ट्रॉफी कोरोना की भेंट चढ़ जाएगी, लेकिन अब बीसीसीआई सचिव जय शाह ने पुष्टि कर दी है कि रणजी ट्रॉफी को दो भागों में आयोजित किया जाएगा।

शाह ने लगाई अंतिम मुहर

जय शाह ने कहा, बोर्ड ने इस सीजन में दो भागों में रणजी ट्रॉफी आयोजित करने का फैसला किया है। पहले चरण में, हम लीग चरण के सभी मैचों को पूरा करने की योजना बना रहे हैं, जबकि नॉकआउट जून में होंगे।

उन्होंने आगे कहा, मेरी टीम इस योजना पर काम कर रही है। हम यह भी देख रहे हैं कि इस योजना से कोरोना के कारण खड़ी हुई परेशानियों को किस प्रकार कम किया जाए। हम पूरी कोशिश करेंगे कि इस बार हम रणजी के एक शानदार सीजन की मेजबानी करें। रणजी ट्रॉफी हमारी सबसे प्रतिष्ठित घरेलू प्रतियोगिता है। इससे भारतीय क्रिकेट को नए-नए टैलेंटेड क्रिकेटर्स मिलते हैं।

5 जनवरी से होने वाला था आयोजन

इस साल रणजी ट्रॉफी का आयोजन 5 जनवरी से होने वाला था, लेकिन कोरोना की तीसरी लहर के चलते बीसीसीआई ने लगातार दूसरे साल घरेलू फस्र्ट क्लास टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी के अलावा सीके नायडू ट्रॉफी और सीनियर महिला टी-20 लीग स्थगित करने का फैसला किया है। बोर्ड ने कहा था, कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच इन टूर्नामेंट को आयोजित करने का रिस्क नहीं ले सकता है। वहीं, महिला टी-20 लीग फरवरी में होनी थी। पिछले साल भी कोरोना महामारी के कारण इन टूर्नामेंट को कैंसिल कर दिया गया था।

शास्त्री ने उठाए थे बोर्ड पर सवाल

रणजी ट्रॉफी को स्थगित किए जाने के बाद बीसीसीआई ये तय नहीं कर पा रहा था कि देश के सबसे बड़े घरेलू टूर्नामेंट का आयोजन कब किया जाए। इसको लेकर टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने भी ट्वीट कर चिंता जाहिर की थी। शास्त्री ने लिखा था- रणजी ट्रॉफी भारतीय क्रिकेट की बेकबोन है। जिस समय आप इसकी अनदेखी करना शुरू करते हैं उसी समय हमारा क्रिकेट रीढ़ विहीन हो जाता है।


Share