बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच अच्छी खबर; मिल सकती हैं एक और वैक्सीन

Coronavirus
Share

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ने के साथ ही अच्छी खबरें सामने आ रही हैं।  संकेत हैं कि देश को एक और कोरोना वैक्सीन मिल सकती है।  रूस में बने कोरोना वायरस के लिए स्पुतनिक -5 वैक्सीन को भारत में मंजूरी दी जा सकती है।

रूसी कोरोना वायरस वैक्सीन स्पुतनिक -5 को आने वाले हफ्तों में भारतीय दवा नियामकों से मंजूरी मिल सकती है। डॉ  रेड्डी ने भारत को स्पुतनिक -5 वैक्सीन लाने के लिए रूस प्रत्यक्ष निवेश कोष के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। दीपक सपरा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी, ने कहा कि “हमें उम्मीद है कि आने वाले हफ्तों में मंजूरी मिल जाएगी।” यह टीका दो खुराक वाला टीका होगा। पहली खुराक के बाद 21 वें दिन दूसरी खुराक लेनी होगी।

टीकाकरण के 28 वें और 42 वें दिन प्रतिरक्षा विकसित होगी।  रविवार शाम आयोजित एक वेबिनार के दौरान सपना ने अपने विचार साझा किए। स्पुतनिक वैक्सीन के बारे में पूछने पर उन्होंने खबर दी।

लगातार बढ़ रहे हैं मामले

2021 में भारत में  8,000 से 9,000 संक्रमणों की रिपोर्ट की गई थी, लेकिन कोविड़ की एक दूसरी लहर ने हाल के हफ्तों में चिंता पैदा की है। भारत में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। सोमवार को 68,000 से अधिक मरीजों का पंजीकरण किया गया था।  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 68,020 नए कोरोना रोगियों को भारत में जोड़ा गया है।  देश में कोरोना संक्रमणों की संख्या 1,20,39,644 तक पहुंच गई है।

पिछले 24 घंटों में 291 लोगों की मौत भी हुई है।  इससे कुल मौतों की संख्या 1,61,843 हो जाती है।  वहीं, देश में सक्रिय रोगियों की कुल संख्या 5,21,808 है और अब तक 1,13,55,993 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।  देश में कुल 6,05,30,435 लोगों को कोरोना वायरस के खिलाफ टीका लगाया गया है।

कई राज्यों में हालात बेकाबू; लॉकडाउन की संभावना

भारत में दूसरी लहर के कारण, कई राज्यों को गंभीर प्रतिबंधों का सामना करना पड़ रहा है। सबसे खराब स्थिति महाराष्ट्र में है। राज्य में एक रात कर्फ्यू लगा दिया गया है। महाराष्ट्र में 28 मार्च से रात्रि कर्फ्यू लगाया गया है। बढ़ते कोरोना संक्रमणों की पृष्ठभूमि के खिलाफ मध्य प्रदेश में प्रतिबंध लागू है।  स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि संक्रमण महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, छत्तीसगढ़ और गुजरात में बढ़ रहा है। केंद्र के अनुसार, महाराष्ट्र, कर्नाटक, पंजाब, मध्य प्रदेश, गुजरात, केरल, तमिलनाडु और छत्तीसगढ़ में 84.5 प्रतिशत नए मामले सामने आए।


Share