कुश्ती में गोल्डन हेट्रिक- बजरंग, दीपक और साक्षी ने जीता स्वर्ण, कुल 6 पदक मिले

Golden hat-trick in wrestling - Bajrang, Deepak and Sakshi won gold, got a total of 6 medals
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। दीपक पूनिया ने राष्ट्रमंडल खेलों की कुश्ती स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता। पुरूषों के 86 किलो फ्रीस्टाइल वर्ग के फाइनल में पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम को हराया। भारत के स्टार पहलवान बजरंग पूनिया ने शुक्रवार को राष्ट्रमंडल खेलों में पुरूषों की फ्रीस्टाइल 65 किग्रा स्पर्धा के फाइनल में कनाडा के लाचलान मैकनील को 9-2 से हराकर अपना खिताब बरकरार रखा। टोक्यो ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता बजरंग ने इंग्लैंड के जॉर्ज रैम पर तकनीकी श्रेष्ठता (10-0) से जीत दर्ज कर आसानी से फाइनल में जगह बनायी थी। भारतीय महिला पहलवान साक्षी मलिक ने भी राष्ट्रमंडल खेलों की 62 किग्रा के फाइनल में कनाडा की एना गोंडिनेज गोंजालेस को चित करके स्वर्ण पदक अपने नाम किया। यह साक्षी का राष्ट्रमंडल खेलों में पहला स्वर्ण पदक है। इससे पहले वह राष्ट्रमंडल खेलों में रजत और कांस्य पदक जीत चुकी हैं। साक्षी ने गोंजालेज को चित (विन बाई फॉल) करके स्वर्ण पदक जीता। साक्षी पहले हाफ के अंत तक मैच में 4-0 से पीछे चल रही थीं, लेकिन दूसरे हाफ में उन्होंने शानदार वापसी की। साक्षी ने पहले गोंजालेज को दो बार टेकडाउन करके मैच को 4-4 की बराबरी पर पहुंचाया, और फिर अपनी प्रतिद्वंदी को चित करते हुए उन्होंने राष्ट्रमंडल खेलों में अपना पहला स्वर्ण प्राप्त किया। भारत कुश्ती में अब तक तीन स्वर्ण और एक रजत सहित चार पदक जीत चुका है। इससे पहले, अंशु मलिक 57 किग्रा महिला में रजत, जबकि बजरंग पूनिया 65 किग्रा पुरूष वर्ग और 86 किलो फ्रीस्टाइल वर्ग में दीपक पूनिया स्वर्ण जीत चुके हैं। टोक्यो ओलंपिक 2020 के कांस्य पदक विजेता बजरंग ने मैच की शुरूआत से ही मेकनील पर दबाव बनाना शुरू कर दिया, जबकि मेकनील उनके सामने बेअसर नजर आये। इस जीत के साथ भारत ने राष्ट्रमंडल खेलों में सात स्वर्ण जीत लिये हैं। दूसरी ओर, यह कुश्ती में भारत का दूसरा पदक है, जबकि पहला पदक अंशु मलिक (रजत) ने महिला 57 किग्रा में जीता था। गत चैम्पियन बजरंग मौरिशस के जीन गुलियाने जोरिस बांडोऊ को महज एक मिनट में पटखनी देकर 6-0 की जीत से सेमीफाइनल में पहुंचे। उन्हें क्वार्टरफाइनल में पहुंचने में दो मिनट से भी कम समय लगा, जिसके लिये उन्होंने शुरूआती दौर में नौरू के लोवे बिंघम को गिराकर 4-0 से आसान जीत दर्ज की।  बजरंग ने एक मिनट अपने प्रतिद्वंद्वी को समझने में लिया और फिर ‘जकडऩे’ की स्थिति से अचानक बिघंम को पटक कर मुकाबला खत्म कर दिया। बिंघम को इस अचानक से हुए दांव का पता नहीं चला और भारतीय पहलवान आसानी से जीत गया।भारतीय महिला पहलवान अंशु मलिक ने शुक्रवार को राष्ट्रमंडल खेलों की 57 किग्रा फ्रीस्टाइल स्पर्धा में रजत पदक जीतकर देश का कुश्ती में खाता खोला। अंशु को फाइनल में नाईजीरिया की ओडुनायो फोलासाडे एडुकुरोये से 3-7 से हार का सामना करना पड़ा।

दिव्या काकरान और मोहित ने जीता ब्रॉन्ज

दिव्या काकरान और मोहित ग्रेवाल ने कुश्ती में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया है। दिव्या ने ब्रॉन्ज मेडल मुकाबला सिर्फ 30 सेकेंड में जीत लिया। उन्होंने टोंगा की लिली कॉकर को 2-0 से हराया। वहीं, भारतीय पहलवान मोहित ग्रेवाल ने 125 ्यत्र फ्रीस्टाइल में जमैका के एरॉन जॉनसन को 6-0 से मात दे दी। इसी के साथ कुश्ती में भारतीय टीम के 6 मेडल हो गए हैं। कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में 9 गोल्ड, 8 सिल्वर और 9 ब्रॉन्ज के साथ भारत के 26 पदक हैं और पॉइंट टेबल में भारतीय टीम पांचवें स्थान पर पहुंच गई है।


Share