कोरोना संक्रमण को लेकर गहलोत सरकार हुई सख्त, डबल डोज नहीं लगवाने पर 10 हजार का जुर्माना

Gehlot government became strict regarding corona infection, fined 10 thousand for not applying double dose
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। गहलोत सरकार कोरोना वैक्सीन की डबल डोज नहीं लगवाने, फेस मास्क नहीं पहनने, नो मास्क नो एंट्री की पालना नहीं करने और सामाजिक दूरी की पालना नहीं करने पर 10 हजार रूपये का जुर्माना वसूलेगी। बिना सूचना देने पर समारोह में 100 से अधिक व्यक्ति शामिल होने पर भी सरकार ने 10 हजार रूपये का जुर्माना लगाने का प्रावधान किया है। राज्य सरकार ने गजट नोटिफेशन जारी कर दिया है। गहलोत सरकार ने प्रदेश में बेकाबू होते कोरोना पर लगाम के लिए पहली बार कोरोना की डबल डोज नहीं लगवाने पर 10 हजार रूपये जुर्माना लगाने का प्रावधान किया है। राज्य सरकार ने प्रदेश के सभी कर्मचारियों को 31 जनवरी तक डबल डोज लगवाना अनिवार्य कर दिया है। इसके बाद कार्मिक को कार्यालय में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। उल्लेखनीय है कि सीएम अशोक खुद कोरोना पॉजिटिव हो गए है।

समारोह के लिए हेल्पलाइन नंबर पर देनी होगी सूचना : गहलोत सरकार द्वारा जारी गजट नोटिफिकेशन के अनुसार 181 हेल्पलाइन नंबर पर पूर्व सूचना दिए बिना सार्वजनिक, सामाजिक, राजनैतिक, खेलकूद संबंधी, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, एवं धार्मिक समारोह, सभा, रैलियां, धरना, प्रदर्शन, मेलों आदि आयोजित किए जाने पर 100 से अधिक व्यक्ति शामिल होने पर 10 हजार रूपये का जुर्माना लगाकर दंडि़त किया जाएगा। गाइडलाइन के अनुसार विवाह के संबंध में सूचना प्राप्त होने पर उपखंड मजिस्ट्रेट द्वारा सामाजिक दूरी का पालन नहीं करने पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। विवाह आयोजनकर्ता द्वारा वीडियोग्राफी करवाई जाएगी। संबंधित उपखंड अधिकारी द्वारा मांगे जाने वीडियोग्राफी उपलब्ध करवानी होगी।

गहलोत सरकार ले रही हैं सख्त निर्णय : दरअसल, गहलोत सरकार राज्य में जिस तेज गति से कोरोना का संक्रमण फैल रहा है, उसे रोकने के लिए सख्त कदम उठा रही है। राजधानी जयपुर में कोरोना का महाविस्फोट हो गया है। जयपुर के बाद सीएम गहलोत के गृह जिले जोधपुर में दिन प्रतिदिन कोरोना के केसों की संख्या बढ़ती जा रही है। राजस्थान में ओमिक्रॉन के नए केस भी रोजाना आ रहे हैं। गहलोत सरकान ने हाल ही में कोरोना की नई गाइडलाइन भी जारी कर दी है। कोरोना की नई गाइडलाइन 7 जनवरी से संपूर्ण प्रदेश में प्रभावी हो गई है। नई गाइडलाइन 17 जनवरी तक प्रभावी रहेगी। हालांकि, सीएम अशोक गहलोत ने राजस्थान में लॉकडाउन लगाने से इंकार कर दिया है। फिलहाल जयपुर-जोधपुर में नाइट कफ्र्यू नहीं लगाया जाएगा।


Share