जीडीपी तीसरी तिमाही में पॉजीटिव आई

जीडीपी तीसरी तिमाही में पॉजीटिव आई
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने इस वित्त वर्ष (2020-21) की दिसंबर में खत्म होने वाली तीसरी तिमाही के लिए जीडीपी के आंकड़े जारी कर दिए हैं। आंकड़ों में भारतीय अर्थव्यवस्था 0.4 फीसद बढ़ी है।  बता दें भारतीय अर्थव्यवस्था में जून तिमाही के दौरान रिकॉर्ड 23.9 फीसदी की गिरावट हुई थी, जबकि दूसरी तिमाही में 7.5 फीसदी की गिरावट हुई। अब भारतीय अर्थव्यवस्था मंदी के दौर से बाहर निकल गई है। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 2019-20 की इसी अवधि में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 3.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। वहीं एनएसओ ने 2020-21 में जीडीपी में 8 प्रतिशत गिरने का अनुमान लगाया है। जनवरी में जारी अपने पहले अग्रिम अनुमानों में, उसने चालू वित्त वर्ष के लिए 2019-20 में चार प्रतिशत की वृद्धि के मुकाबले 7.7 प्रतिशत की कमी का अनुमान लगाया था। अक्टूबर-दिसंबर 2020 में चीन की अर्थव्यवस्था 6.5 प्रतिशत बढ़ी, जो जुलाई-सितंबर 2020 के मुकाबले 4.9 प्रतिशत अधिक थी।

अनुमान था कि इस बार मिलेगी खुशखबरी

दूसरी यानी सितंबर तिमाही में अर्थव्यवस्था में 7.5 फीसदी की गिरावट आई। वैसे कई एजेंसियां पहले से ही इस बात की आशंका जता रही थीं कि तीसरी तिमाही में अर्थव्यवस्था पॉजिटिव रह सकती है। रिजर्व बैंक की तरफ से दिसंबर में जारी ‘स्टेट ऑफ द इकोनॉमीÓ बुलेटिन में भी कहा गया था इकनॉमी के गहरी खाई से बाहर निकलने के संकेत मिल रहे हैं। आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज ने भी 1722 कंपनियों के तिमाही नतीजों के आधार पर कहा था कि इकनॉमी में सुधार हो रहा है।


Share