पहले प्रदेश सरकार पर फिर युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष पर भड़के शहर जिलाध्यक्ष

पहले प्रदेश सरकार पर फिर युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष पर भड़के शहर जिलाध्यक्ष
Share

उदयपुर. नगर संवाददाता & शहर में गुरूवार को भाजपा ने प्रदेश सरकार पर पैट्रोल और डीजल पर वेट नहीं घटाने की मांग का लेकर प्रदर्शन किया। इसमें शहर जिलाध्यक्ष पहले तो राज्य सरकार पर गरजे और बाद में अपने ही युवा मोर्चा शहर अध्यक्ष पर प्रदर्शन में संख्या कम लाने पर भड़क गए। प्रदर्शन के बाद शहर अध्यक्ष ने युवा मोर्चा शहर अध्यक्ष से कहा कि इस तरह से संख्या कम लाना ठीक नहीं है। बातों ही बातों में काम हो रहा है या नहीं, यहां तक बात पहुँच गर्ई। प्रदर्शन के बाद करीब 15 से 20 मिनट तक दोनों के बीच इसी विषय को लेकर तर्क-वितर्क चलता रहा।

जानकारी के अनुसार राजस्थान सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर वेट कम नहीं करने के विरोध में युवा मोर्चा शहर ने कलेक्ट्री पर प्रदर्शन का कार्यक्रम रखा गया था। दोपहर को युवा मोर्चा के विभिन्न पदाधिकारी और कार्यकर्ता युवा मोर्चा अध्यक्ष सन्नी प्रजापत के नेतृत्व में कलेक्ट्री पहुँच गए, जहां पर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। इस प्रदर्शन में भाजपा शहर अध्यक्ष रविन्द्र श्रीमाली के साथ-साथ भाजपा शहर से भी कई पदाधिकारी उपस्थित थे। करीब आधे घंटे तक चले प्रदर्शन के बाद एडीएम को ज्ञापन दिया। ज्ञापन देने के बाद सभी बाहर निकल गए और जिला परिषद की ओर खड़े होकर आपस में बातें कर रहे थे। इस दौरान शहर अध्यक्ष रविन्द्र श्रीमाली ने युवा मोर्चा शहर अध्यक्ष सन्नी पोखरना को पकड़ लिया और प्रदर्शन में आई संख्या को लेकर सवाल-जवाब शुरू हो गए। शहर अध्यक्ष श्रीमाली इस प्रदर्शन में आई संख्या से बिलकुल खुश नहीं थे और उन्हें लग रहा था कि जितनी भीड़ होनी चाहिए थी उतनी नहीं हँ। इसी को लेकर शहर अध्यक्ष रविन्द्र श्रीमाली ने पूछा कि इतने कम लोग क्यों आए और बाकी के कहां गए।

साथ ही युवा मोर्चा के मण्डलों के कार्यकारिणी के पूरे पदाधिकारी और कार्यकर्ता तक इस धरना प्रदश्रन में नहीं आए, जो ठीक नहीं है। अभी भी युवा मोर्चा के पांच मण्डल अध्यक्षों की घोषणा करनी बाकी है इस पर शहर अध्यक्ष रविन्द्र श्रीमाली ने कहा कि संबंधित भाजपा मण्डल अध्यक्ष से पूछकर इन मण्डलों पर युवा मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा कर दो। बातों ही बातों में बात यहां पर जा पहुँची कि काम हो पा रहा या है नहीं। करीब 15 से 20 मिनट तक चले इस तर्क-वितर्क के बाद युवा मोर्चा अध्यक्ष रवाना हो गए। इसके बाद से ही शहर भाजपा में फिर से इस बात पर चर्चाएं चल रही है कि अभी भी शहर युवा मोर्चा और भाजपा में टकराव की स्थिति बनी हुई है। प्रदर्शन के दौरान ग्रामीण विधायक फूलसिंह  मीणा, महामंत्री डॉ किरण जैन, गजपाल सिंह राठौड़, मनोज मेघवाल, मंडल अध्यक्ष हजारी जैन, भूपाल सिंह राणा, जितेंद्र मारू, भाजयुमो महामंत्री रणजीत सिंह दीगपाल, उपाध्यक्ष महेश गोस्वामी, कपिल राठौड़, जिला मंत्री श्याम शर्मा, लोकेश साहू, बंशी लाल डांगी,मोहित सनाढय सहित पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

पांच मण्डलों पर चल रही खींचतान

जानकारी के अनुसार युवा मोर्चा शहर में अभी भी पांच मण्डलों के अध्यक्षों और उनकी कार्यकारिणी की घोषणा होनी शेष है। इसको लेकर पेच फंसा हुआ है। इन पांच मण्डलों पर भाजपा के नेता अपने पसंद के मण्डल बनाना चाहते है, जो युवा मोर्चा शहर अध्यक्ष को पसंद नहीं आ रहे है। इसी कारण पिछले 4 माह से इन पांचों मण्डलों पर अभी तक अध्यक्ष नहीं बन पाए है। वहंी इन मण्डलों पर अध्यक्ष लगाने के लिए युवा मोर्चा अध्यक्ष पर दबाव बनाया जा रहा है।


Share