शिमला से ज्यादा ठंडा रहा फतेहपुर- 2.8 डिग्री के साथ प्रदेश का सबसे ठंडा इलाका

माउंट आबू से भी ठंडा फतेहपुर
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। उत्तरी भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में हो रही बर्फबारी ने मैदानी इलाकों में सर्दी बढ़ा दी है। इसका असर बुधवार को राजस्थान में देखने को मिला। बीती रात हल्की सर्द हवाओं के कारण गलन भरी सर्दी रही। लोग सुबह जब घरों से निकले तो उन्हें तेज सर्दी का अहसास हुआ। प्रदेश में सबसे ठंडा फतेहपुर रहा। यहां का तापमान शिमला से ज्यादा रहा। शिमला का न्यूनतम तापमान 7 डिग्री दर्ज किया गया। जबकि सीकर जिले के फतेहपुर इलाके में तो बीती रात न्यूनतम तापमान 2.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया, जो इस सर्दी के सीजन में अब तक का सबसे ठंडा इलाका रहा। वहीं बुधवार को उदयपुर संभाग के जिलों में सुबह हल्के बादल देखने को मिले। मौसम विभाग ने हल्की और मध्यम दर्जे की बारिश होने की चेतावनी जारी की गई है।

सर्दी की बात करें तो भीलवाड़ा, पिलानी, सीकर, सवाई माधोपुर, चित्तौडग़ढ़, उदयपुर, चूरू, नागौर, बारां और हनुमानगढ़ जिले में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया गया। वहीं उत्तरी राजस्थान के गंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू, झुंझुनूं, जयपुर समेत कई जिलों में बीती रात हल्की सर्द हवाएं भी चली। वहीं शेष सभी शहरों में न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे चला गया। सुबह-शाम के अलावा लोगों को अब दिन में भी गर्म कपड़ों की जरूरत महसूस होने लगी।

मौसम वैज्ञानिकों की माने तो हवाओं का रूख उत्तर-पश्चिम में होने के कारण तापमान में यह गिरावट हुई है और अगले कुछ दिनों में सर्दी का असर और बढ़ सकता है। वहीं 19 नवंबर बाद उत्तरी राजस्थान के अलावा कोटा, भरतपुर और उदयपुर संभाग के कुछ जिलों में सुबह कोहरा भी पड़ सकता है।


Share