फतेहपुर 4 माउंट 4.5- उदयपुर सहित 9 जिलों में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से कम

सर्दी ने ढाया कहर - बाड़मेर को छोड़ कर पुरे प्रदेश में पारा 6 डिग्री से काम
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान में अब सर्दी के तेवर तेज होने लगे है। बीती रात सीकर का फतेहपुरा क्षेत्र हिल स्टेशन माउंट आबू से भी ज्यादा ठण्डा रहा। माउंट आबू और फतेहपुर में बीती रात इस सीजन की सबसे सर्द रात रही। इन दोनों ही जगहों पर न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे दर्ज हुआ। माउंट आबू में तो सर्दी के कारण मैदानों में ओस पडऩी शुरू हो गई। इन दो शहरों के अलावा राजस्थान के 33 में से 9 जिले ऐसे रहे जहां रविवार रात न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे रहा।

हिल स्टेशन माउंट आबू में कल रात न्यूनतम तापमान 4.5 डिग्री और फतेहपुर में 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। माउंट आबू में सुबह गाडिय़ां, खेल मैदान में ओस की चादर से ढके नजर आए। फतेहपुर में भी कमोबेश यही स्थिति देखने को मिली। फतेहपुर एग्रीकल्चर कॉलेज के डीन प्रो. शीशराम ढाका की मानें तो राजस्थान में सर्दी बढऩे का सबसे ज्यादा फायदा रबी की फसल को होगा। गेंहू, सरसों, जौ, चना और मटर की फसल के लिए काफी उपयोगी है। वर्तमान में पूरे प्रदेश में 51 फीसदी से ज्यादा रकबे पर रबी की फसल बोई जा चुकी है और 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे तापमान रहता है तो यह इन फसलों के लिए काफी अच्छा है। उन्होंने बताया कि अगर 20-25 दिन के बाद अगर एक बार मावठ हो जाए तो वह इन फसलों के लिए अमृत के समान होगी।

रात में चलने लगी सर्द हवाएं : राजधानी जयपुर, कोटा, उदयपुर समेत कई बड़े शहरों में सर्दी तेज होने लगी है। कोटा, बारां, बूंदी समेत हाड़ौती बेल्ट में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंच गया। वहीं चित्तौडग़ढ़, जालौर, हनुमानगढ़, नागौर, चूरू, सीकर, उदयपुर, अलवर, भीलवाड़ा में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे रहा।


Share