आज से FASTag अनिवार्य है; हाइब्रिड लेन को 15 फरवरी तक छूट

आज से FASTag अनिवार्य है; हाइब्रिड लेन को 15 फरवरी तक छूट
Share

आज से FASTag अनिवार्य है;  हाइब्रिड लेन को 15 फरवरी तक छूट : केंद्र सरकार

सड़क और परिवहन मंत्रालय के मुताबिक, फीस प्लाजा की फास्टैग लेन में, फीस का भुगतान केवल फास्टैग के माध्यम से होता रहेगा। राष्ट्रीय परमिट वाहनों के लिए, 1 अक्टूबर, 2019 से FASTag का फिट होना अनिवार्य था।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने गुरुवार को 1 जनवरी, 2021 से FASTag के फिट होने को अनिवार्य कर दिया है, 1 दिसंबर, 2017 से पहले बेचे जाने वाले मोटर वाहनों की M और N श्रेणियों में। ‘श्रेणी’ M ‘एक मोटर वाहन के लिए है।  यात्रियों को ले जाने के लिए कम से कम चार पहिए का इस्तेमाल किया गया जाना चाहिए।  श्रेणी N ’माल ढोने के लिए उपयोग किए जाने वाले कम से कम चार पहियों के साथ एक मोटर वाहन के लिए खड़ा है, जो माल के अलावा लोगों को भी ले जा सकता है।

मंत्रालय ने स्पष्ट किया कि 1 जनवरी 2021 से केंद्रीय मोटर वाहन नियम (CMV) लागू होता है।

हालांकि, हाइब्रिड लेन को राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल प्लाजा के भुगतान के लिए FASTag के साथ- साथ कैश विकल्प भी 15 फरवरी 2021 तक उपलब्ध रहेंगे। इसके अलावा सभी के लिए  टोल प्लाजा के FASTag लेन में फीस भुगतान केवल FASTag के माध्यम से ही होगा।

बयान में  ये भी कहा गया कि 1 जनवरी 2021 से टोल प्लाजा पर 100 प्रतिशत E- टोलिंग लागू की जाएगी जो CMV नियमों के तहत अनिवार्य है।

क्या होता है FASTag?

FASTag, टोल प्लाजा पर फीस को ऑनलाइन देने की सुविधा प्रदान करता है यह 2016 में पहली बार शुरू हुए था। इसको अनिवार्य बनाने के पीछे सरकार का लक्ष्य टोल पर वाहनों को लंबी लाइनों से बचाना हैं। क्योंकि टोल टैक्स का भुगतान fastag से ऑनलाइन ही हो जाएगा।

FASTag को 2016 में लॉन्च किया गया था। शुरू में चार बैंकों ने मिलकर लगभग एक लाख  fastag जारी किए थे। ये संख्या 2017 तक 7 लाख हो गई व 2018 में 34 लाख से अधिक FASTags जारी हुए।

इसी साल नवंबर में, मंत्रालय ने एक सूचना जारी की, जिसमें की पुराने वाहनों या जिन्हें 1 दिसंबर 2017 से पहले बेचा गया था के लिए 1 जनवरी 2021 से FASTag अनिवार्य किया गया था। Center motor vaahan नियम 1989 के अनुसार 1 दिसंबर 2017 से, नए चार पहिया वाहनों के पंजीकरण के लिए FASTag को अनिवार्य कर दिया गया था। साथ ही  परिवहन वाहन के फिटनेस प्रमाणपत्र का नवीनीकरण संबंधित वाहन के FASTag के बाद ही किया जाएगा। राष्ट्रीय परमिट वाहनों के लिए FASTag का फिट होना 1 अक्टूबर 2019 से अनिवार्य था।

नये 3rd पार्टी इंश्योरेंस लेने के लिए एक वैध fastag अनिवार्य किया जाएगा। यह  नियम 1 अप्रैल 2021 से लागू हो सकता है।

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने शुक्रवार को कहा कि FASTag के माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रतिदिन रिकॉर्ड 50 लाख लेनदेन के साथ 80 करोड़ पार कर गया है।अब तक 2.20 करोड़ से अधिक FASTag जारी किए जा चुके हैं।


Share