तीसरी लहर पर एक्सपर्ट्स की चेतावनी : ओमिक्रॉन के कारण भारत में कोरोना तेजी से फैलेगा, लेकिन यह लहर ज्यादा दिन नहीं चलेगी

Experts warn on third wave: Corona will spread rapidly in India due to Omicron, but this wave will not last long
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत में आने वाले दिनों में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ सकते हैं, लेकिन राहत की बात यह होगी कि यह सिलसिला ज्यादा दिन तक नहीं चलेगा। ओमिक्रॉन वैरिएंट का असर भी यहां देखा जा सकता है। यह जानकारी कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर पॉल केटुमैन ने दी है। उनकी टीम ने कोविड-19 इंडिया ट्रैकर तैयार किया है।

कुछ दिनों में बढ़ेंगे मामले : मेल के जरिए ब्लूमबर्ग को भेजे जवाब में पॉल ने कहा- अगले कुछ दिन या फिर कुछ हफ्तों में भारत में संक्रमण बढ़ेगा। हालांकि, ये नहीं कहा जा सकता कि इन्फेक्शन रेट क्या होगा। कोविड-19 इंडिया ट्रैकर में भारत के 6 राज्यों को लेकर फिक्र जाहिर की गई है। स्टडी में दिन और हफ्तों के आधार पर अनुमान लगाया गया है।

तेजी से बढ़ रहा ओमिक्रॉन : देश में अब तक कोरोना के 3.48 करोड़ केस सामने आ चुके हैं। 4 लाख 80 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। यहां 653 लोगों को ओमिक्रॉन वैरिएंट से भी इन्फेक्टेड पाया जा चुका है। ओमिक्रॉन से खतरा इसलिए भी ज्यादा है, क्योंकि यह बहुत तेजी से फैलता है। पिछले हफ्ते सरकार ने बूस्टर डोज की मंजूरी के साथ ही 15 से 18 साल के युवाओं के वैक्सीनेशन को भी हरी झंडी दे दी थी।

एंटीवायरल पिल को भी मंजूरी : हाल ही में दो और वैक्सीन को मंजूरी दी गई है। इसके साथ ही जर्मनी की कंपनी मर्क की एंटी-वायरल पिल यानी टैबलेट को भी इमरजेंसी यूज की मंजूरी दी गई है। ब्लूमबर्ग के मुताबिक, भारत सरकार ने यह फैसले तेजी से लिए, क्योंकि अप्रैल और मई में कोविड की वजह से देश में हालात काफी खराब हो गए थे।

उस दौरान हर दिन करीब 4 लाख केस सामने आ रहे थे। देश का हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर चरमरा गया था। तकरीबन हर जगह ऑक्सीजन की कमी देखी गई थी। कैम्ब्रिज के कोविड-19 इंडिया ट्रैकर ने अप्रैल-मई में आई कोरोना लहर की जानकारी दी थी। तब उसने ये भी बताया था कि अगस्त तक मामले काफी कम हो जाएंगे। भारत में अब तक 141 करोड़ कोविड वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं।


Share