‘अभी पूरे टिकट बंटे नहीं हैं, अपर्णा को बहुत शुभकामनाएं’ परिवार में टूट पर बोले अखिलेश- समाजवादी विचारधारा का विस्तार हो रहा

'Entire tickets have not been distributed yet, best wishes to Aparna' Akhilesh said on the breakdown in the family- Samajwadi ideology is expanding
Share

लखनऊ  (एजेंसी)। समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने अपने छोटे भाई प्रतीक यादव की पत्नी अपर्णा यादव का टिकट काटे जाने और फिर उनके भाजपा में शामिल होने पर कहा कि अभी तो बहुत सी सीटों पर प्रत्याशी तय ही नहीं हुए हैं। अखिलेश ने दावा किया कि उनके पिता मुलायम सिंह यादव ने अपर्णा को मनाया लेकिन वो नहीं मानीं। उनके उन्होंने आजमगढ़ विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतरने को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं की और सवाल पर सीधा जवाब देने से कन्नी काट गए। उन्होंने अपर्णा के भाजपा में शामिल होने को समाजवादी विचारधारा का विस्तार बताया। अखिलेश ने कहा, टिकट अभी पूरे नहीं बंटे हैं। टिकट किसे मिलना है और किसे नहीं मिलेगा, यह क्षेत्र और जनता पर निर्भर करता है और हमारी इंटर्नल सर्वे रिपोर्ट पर भी निर्भर करता है।

अखिलेश ने आजमगढ़ से विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लडऩे की अटकलों पर कहा, आजमगढ़ की जनता से अनुमति लेकर ही चुनाव लड़ूंगा, अगर चुनाव लड़ता हूं। उनसे अनुमति इसलिए लेनी पड़ेगी क्योंकि वहां के लोगों ने मुझे जिताया है। ध्यान रहे कि अखिलेश आजमगढ़ संसदीय क्षेत्र से ही अभी लोकसभा सांसद हैं।


Share