तूफानी बारिश ने मचाया कहर, कई पेड़ धराशायी, प्रतापगढ़ में सैंकड़ों पोल गिरे

Stormy rain caused havoc, many trees collapsed, hundreds of poles fell in Pratapgarh
Share

उदयपुर। मंगलवार शाम को तूफानी हवा के साथ हुई बारिश के चलते आयड़ में बिजली के तारों पर गिरा पेड़।

उदयपुर (कार्यालय संवाददाता)। मौसम विभाग की भारी बारिश की चेतावनी के बीच उदयपुर संभाग में मंगलवार शाम को कई जगह तूफानी हवाओं के साथ हुई बारिश से जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया। सैंकड़ों पेड़ गिर गए, टिन-टप्पर व छप्पर होर्डिंग उड़ गए व बारिश के दौरान बिजली गिरने से कुशलगढ़, प्रतापगढ़ में तीन व चित्तौडग़ढ़ में दो जनों की मौत हो गई। शाम को करीब 5 बजे बाद शुरू हुए बारिश के दौर के साथ ही तूफानी हवाओं से कई पेड़ व बिजली के पोल जड़ से उखड़ कर सड़कों पर आ गिरे जिसमें कुछ लोग घायल भी हो गए। चित्तौडग़ढ़ में जिला कलक्ट्रेट में पानी भर गया। लेकसिटी उदयपुर में तेज बारिश व तूफान से कई जगह पेड़ गिर गए। ठोकर चौराहे पर रेलवे की जमीन पर लगा एक बड़ा होर्डिंग कुछ खंभों को क्षतिग्रस्त करते हुए फुटपाथ पर आ गिरा। कुछ जगह फुटपाथों पर अवैध रूप से लगाए गए खंभे भी गिर गए। इधर, हर बारिश में गुल हुई बिजली देर रात तक बहाल नहीं हो सकी जिससे लोगों को खासी परेशानी हुई।

बिजली गिरने से गई 8 जानें

कुशलगढ : पिता, पुत्र-पुत्री पर गिरी बिजली, मौत

कुशलगढ़ संवाददाता के अनुसार उपखंड के पाटन थाने के भौंराज गांव में बिजली गिरने से पिता और बेटा-बेटी की मौत हो गई तथा पड़ोसी घायल हो गया। पुलिस के अनुसार गांव में एक छप्पर वाले मकान में रह रहे पिता व बेटा-बेटी पर अचानक आंधी-तूफान के दौरान बिजली गिरी जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। यही नहीं पड़ोसी भी गंभीर घायल हो गया। हादसे में पिता मोहन पुत्र हीरा उम्र 35 वर्ष, पुत्र राजपाल उम्र 15 वर्ष, बेटी सुमिता 13 वर्ष की मौत हो गई। पड़ासी सोहन घायल हो गया। हादसे की सूचना मिलने पर बांसवाड़ा जिला कलेक्टर व एसपी मौके पर पहुंचे व जानकारी ली। डिप्टी बलबीरसिंह मीणा ने यह जानकारी दी।

बिजली गिरने से गई 8 जानें

कुशलगढ : पिता, पुत्र-पुत्री पर गिरी बिजली, मौत

कुशलगढ़ संवाददाता के अनुसार उपखंड के पाटन थाने के भौंराज गांव में बिजली गिरने से पिता और बेटा-बेटी की मौत हो गई तथा पड़ोसी घायल हो गया। पुलिस के अनुसार गांव में एक छप्पर वाले मकान में रह रहे पिता व बेटा-बेटी पर अचानक आंधी-तूफान के दौरान बिजली गिरी जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। यही नहीं पड़ोसी भी गंभीर घायल हो गया। हादसे में पिता मोहन पुत्र हीरा उम्र 35 वर्ष, पुत्र राजपाल उम्र 15 वर्ष, बेटी सुमिता 13 वर्ष की मौत हो गई। पड़ासी सोहन घायल हो गया। हादसे की सूचना मिलने पर बांसवाड़ा जिला कलेक्टर व एसपी मौके पर पहुंचे व जानकारी ली। डिप्टी बलबीरसिंह मीणा ने यह जानकारी दी।

चित्तौडग़ढ़ : बिजली गिरने से पति-पत्नी की मौत

चित्तौडग़ढ़ संवाददाता के अनुसार रावतभाटा के एकलिंगपुरा पंचायत के गांव खातीखेड़ा में खेत पर काम कर रहे पति-पत्नी की बिजली गिरने से मौके पर ही मौत हो गई। एसडीएम कैलाश चंद गुर्जर ने बताया कि किसान रमेश भील (40) और कमला भील (38) की मौत हो गई। बिजली गिरने से दोनों बुरी तरह से झुलस गए। भदेसर के फलासिया में भील परिवार और पोटला में लोहार परिवार के यहां आकाशीय बिजली गिरने से भैंस की मौत हो गई।

प्रतापगढ़ : 3 जनों पर बिजली गिरी, चक्रवात से नुकसान

प्रतापगढ़ जिले में मंगलवार शाम करीब साढ़े 5 बजे से लेकर 5 बजकर 45 मिनट तक तूफानी चक्रवात आया। जिले में अलग-अलग स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरने से तीन की मौत हो गई। इनमें धमोतर थाना क्षेत्र में खेत में काम कर रही एक महिला भगली देवी (30) और देवगढ़ में ताराचंद मीणा (31) शामिल हैं। वहीं एक और व्यक्ति की मौत खेत में काम करने के दौरान हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक इस दौरान करीब 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चली। वहीं तूफानी चक्रवात के 15 मिनट के दौर के दौरान पूरा घंटाली कस्बा ही तहस-नहस हो गया। घंटाली ग्राम पंचायत में करीब 200 से अधिक पेड़ और 100 से अधिक बिजली के पोल उखड़ गए। कई जगह पर बिजली की डीपी ही उखड़ कर नीचे गिर पड़ी। कई मकानों की दीवारें ही ढह गई।

नारायण पुत्र शंकरलाल के मकान की दीवार देने से उनके घर के बाहर खड़ी टवेरा गाड़ी और ट्रैक्टर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए।


Share