बोलैंड की आंधी में उड़ा इंग्लैंड : पारी और 14 रनों से हार, ऑस्ट्रेलिया का एशेज पर कब्जा

England blown away by Boland's storm: defeat by innings and 14 runs, Australia capture Ashes
Share

मेलबोर्न (एजेंसी)। तेज गेंदबाज स्कॉट बोलैंड (चार ओवर, 7 रन पर 6 विकेट) ने पदार्पण  मैच की दूसरी पारी में 6 विकेट लेकर ऑस्ट्रेलिया को इंग्लैंड पर तीसरे टेस्ट में पारी और 14 रन से बड़ी जीत दिला दी। ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज में 3-0 से अपराजेय बढ़त लेकर एशेज पर भी कब्जा कर लिया है। इंग्लैंड की दूसरी पारी मंगलवार को एक घंटे में 27.4 ओवर में मात्र 68 रन पर सिमट गयी और उसे शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। इंग्लैंड ने पहली पारी में 185 रन बनाये थे जबकि ऑस्ट्रेलिया ने 267 रन बनाकर 82 रन की बढ़त हासिल की थी।

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाजों ने तीसरे दिन भी इंग्लैंड के बल्लेबाजों को बांधे रखा। बोलैंड खास तौर पर आक्रामक रहे। उन्होंने सिर्फ 21 गेंदों में ही अपने 6 विकेट निकाले। वह दो विकेट दूसरे दिन ही ले चुके थे, तीसरे दिन भी उन्होंने चार महत्वपूर्ण विकेट झटके। वहीं दूसरे दिन दो विकेट लेने वाले मिचेल स्टार्क ने मंगलवार सुबह बेन स्टोक्स का अहम विकेट लिया। पहली पारी में तीन विकेट लेकर इंग्लैंड को समेटने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पैट कङ्क्षमस को इस पारी में एक भी विकेट नहीं मिला।

यह मैच पूरी तरह से बोलैंड  के नाम रहा, जिन्हें घरेलू क्रिकेट में विक्टोरिया के लिए मेलबॉर्न  क्रिकेट ग्राउंड पर बेहतरीन प्रदर्शन करने का ईनाम मिला था। पहली पारी में एक विकेट लेने वाले बोलैंड दूसरी पारी में अविश्वसनीय दिखे। उन्हें खेलना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन दिख रहा था।

इस मैच पर कोरोना का भी साया था क्योंकि सोमवार को हुई नियमित जांच में इंग्लैंड दल के चार सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। इसलिए मंगलवार को सभी खिलाडिय़ों का आरटीपीसीआर टेस्ट निगेटिव आने पर ही यह मैच शुरू हुआ। जो रूट और स्टोक्स भले ही क्रीज पर थे, लेकिन इंग्लैंड की हार सुनिश्चित दिख रही थी। बस यह देखना था कि वह कितनी देर तक संघर्ष कर अपनी हार को टाल सकती है।

इंग्लिश टीम दूसरी पारी में सिर्फ 68 रन पर ही ऑलआउट हो गई जो कि 1904 के बाद इंग्लैंड का ऑस्ट्रेलिया में न्यूनतम स्कोर है। यह 1936 के बाद से ऑस्ट्रेलिया में सबसे कम एशेज स्कोर भी है।


Share