इमैनुएल मैक्रों फिर बने फ्रांस के राष्ट्रपति- धुर दक्षिणपंथी नेता मैरीन ले पेन ने मानी हार

इमैनुएल मैक्रों फिर बने फ्रांस के राष्ट्रपति
Share

पेरिस (एजेंसी)। फ्रांस में राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे आने लगे हैं। समाचार एजेंसी एपी की रिपोर्ट के मुताबिक इन चुनावों में फ्रांस की धुर दक्षिणपंथी नेता मैरीन ले पेन ने राष्ट्रपति पद की दौड़ में हार स्वीकार कर ली है जिससे राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों की जीत का रास्ता साफ हो गया है। फ्रांस में इस चुनाव के लिए रविवार को शाम सात बजे तक मतदान हुआ। इसके बाद मतों की गिनती का काम शुरू हुआ।  समाचार एजेंसी एपी की रिपोर्ट के मुताबिक फ्रांस की धुर दक्षिणपंथी नेता मैरीन ले पेन ने अपनी हार स्वीकार करते हुए कहा कि राष्ट्रपति चुनाव में उनका अभूतपूर्व स्कोर स्वत: ही एक शानदार जीत दर्शाता है। हम जिन विचारों को मानते हैं वे शिखर पर पहुंच रहे हैं। मालूम हो कि मैरीन ली पेन फ्रांस के राष्ट्रपति पद की दौड़ में तीसरी बार उतरी हैं। मैरीन ली पेन के पिता ने भी पांच बार राष्ट्रपति पद के लिए अपनी किस्मत आजमाई थी। इस जीत के साथ ही इमैनुएल मैक्रों 20 वर्षों के दौरान दूसरे कार्यकाल के लिए चुने जाने वाले फ्रांस के पहले राष्ट्रपति बन गए हैं। इस चुनाव में राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को विपक्षी नेता मैरिन ली पेन से कड़ी चुनौती मिल रही थी। परमाणु हथियार से संपन्न और दुनिया की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शुमार फ्रांस भारत का मित्र यूरोपीय देश है।

इन चुनाव नतीजों का यूक्रेन विवाद पर असर पड़ेगा। अपने पहले कार्यकाल में इमैनुएल मैक्रों ने खुद को प्रमुख वैश्विक नेता के तौर पर स्थापित किया है।


Share