अयोध्या से बनेगा चुनावी माहौल- रामनगरी को मॉडल के तौर पर पेश करेगी भाजपा

अयोध्या दिव्य दीपोत्सव- वल्र्ड रिकॉर्ड बनाने की तैयारी- 14000 वॉलंटियर्स जलाएंगे साढ़े 9 लाख दीये
Share

लखनऊ (एजेंसी)। योगी आदित्यनाथ सरकार अगले साल फरवरी-मार्च में उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों  की तैयारी में जुटी है। भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिकताओं की सूची में अयोध्या सबसे ऊपर होगी। दिसंबर में, मुख्यमंत्री आदित्यनाथ कुछ परियोजनाओं को समर्पित करते हुए इस शहर में लंबित परियोजनाओं की आधारशिला रख सकते हैं।

अयोध्या प्रशासन के अनुसार, रानी हियो ह्वांग-ओके मेमोरियल पार्क और राम कथा पार्क में एक डिजिटल संग्रहालय लगभग पूरा हो गया है। अयोध्या का रेलवे स्टेशन भी पूरी तरह से मेकओवर के दौर से गुजर रहा है।

केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत अयोध्या में 27 सड़क परियोजनाओं को मंजूरी दी है। 197 किमी की कुल लंबाई वाली सड़कों के लिए, नरेंद्र मोदी सरकार ने 133 करोड़ मंजूर किए हैं। योगी आदित्यनाथ द्वारा परियोजना की आधारशिला रखने के बाद अगले महीने इन सड़कों पर निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

अयोध्या विकास प्राधिकरण भी अगले महीने के अंत तक इस शहर के लिए एक मास्टर प्लान को अंतिम रूप देने की संभावना है। अयोध्या (सदर) निर्वाचन क्षेत्र के भाजपा विधायक वेद प्रकाश गुप्ता ने कहा, मुख्यमंत्री के अगले महीने कुछ परियोजनाओं जो पूरी हो चुकी हैं का उद्घाटन करने के लिए अयोध्या जाने की संभावना है। वह कुछ परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे।

मार्च 2017 में सत्ता में आने के बाद से राज्य में भाजपा सरकार के पहले दिन से ही अयोध्या आदित्यनाथ की सरकार का केंद्र बिंदु बना रहा। आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बनने के बाद से नियमित रूप से इस शहर में आते रहे हैं।


Share