राजस्थान में चली धूलभरी आंधी, बूंदाबांदी, 3 डिग्री सेल्सियस तक गिरा तापमान, गर्मी से राहत; 12 जिलों में ओले गिरने की चेतावनी

Dust storm, drizzle in Rajasthan, temperature dropped to 3 degree Celsius, relief from heat; Hail warning in 12 districts
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान में रविवार को एक बार फिर मौसम बदला। पश्चिमी राजस्थान में धूलभरी आंधी ने लोगों को परेशान किया। वहीं, कई जगह बूंदाबांदी से तापमान में 2 से 3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट हुई, जिससे लगातार बढ़ती गर्मी से प्रदेश के लोगों को राहत मिली। मौसम विभाग ने बारिश के साथ ओले गिरने की चेतावनी दी है।

जयपुर में सुबह जहां तेज धूप ने लोगों को परेशान कर दिया। दोपहर बाद बादलों ने डेरा डाल दिया। आंधी के साथ बूंदाबांदी से जयपुर के तापमान में 3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट हुई। तापमान 41 डिग्री सेल्सियस से लुढ़क कर 38 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। हालांकि आंधी की वजह से वाहन चालकों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। कुछ इलाकों में बिजली गुल हो गई। जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि पश्चिमी राजस्थान के ऊपर एक सर्कुलेशन सिस्टम बनने की वजह से मौसम में परिवर्तन हुआ है। इसका असर जयपुर, जैसलमेर, जोधपुर, नागौर, चूरू समेत प्रदेश के 12 जिलों में देखने को मिला है। मौसम में हुए बदलाव से जहां कुछ जिलों में बादल छाने के साथ 40 किलोमीटर की स्पीड से आंधी चली है। वहीं, कुछ जगह बूंदाबांदी ने गर्मी से मामूली राहत दी है। मौसम में बदलाव का दौर अगले 12 घंटे तक जारी रह सकता है। जिससे प्रदेश के कुछ जिलों में धूलभरी आंधी के साथ बूंदाबांदी या फिर ओले भी गिर सकते हैं।

किसानों के लिए बढ़ सकती है परेशानी

मौसम के इस बदलाव से उन किसानों की मुश्किल बढ़ सकती है, जिनकी फसल खेत या मंडियों में पड़ी है। अभी बीकानेर, गंगानगर, जोधपुर समेत कई शहरों में मंडियों में गेहूं, सरसों, चने की फसल आनी शुरू हो गई है। वहीं, कुछ जिलों में अभी गेहूं की फसलों की कटाई हो रही है। ऐसे में अगर बारिश आती है तो फसल खराब होने की आशंका रहती है।


Share