मोदी सरकार के खिलाफ भी ‘करो या मरो आंदोलन जरूरी : राहुल

Rahul Gandhi defends Gehlot on Adani's investment
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के अंग्रेजों के खिलाफ ‘करो या मरो जैसे आंदोलन की तरह मोदी सरकार के विरूद्ध भी आंदोलन करने की जरूरत है। गांधी ने फेसबुक पोस्ट में कहा, इतिहास का वह पन्ना जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता-‘भारत छोड़ो आंदोलन। आठ अगस्त 1942 को बॉम्बे से शुरू हुए इस आंदोलन ने अंग्रे•ाों की नींद उड़ा दी थी। अगस्त की उस शाम को बॉम्बे के गोवालिया टैंक मैदान में लोगों का जुटना शुरू हुआ, गांधी जी ने ‘करो या मरो का नारा दिया और बस ङ्क्षहदुस्तान में अंग्रेजी हुकूमत का आखिरी अध्याय शुरू हो गया। उन्होंने कहा, आज ङ्क्षहदुस्तान की तानाशाही सरकार के खिलाफ और देश की रक्षा के लिए एक और ‘करो या मरो जैसे आंदोलन की जरूरत है, अब समय आ गया है जब, अन्याय के खिलाफ, बोलना ही होगा। तानाशाही, महंगाई और बेरोजगारी को भारत छोडऩा ही होगा।


Share