जोकोविच की बेतुकी जिद, ‘वैक्सीन नहीं लगवाऊंगा, चाहे सारे खिताब कुर्बान करने पड़े’

Djokovic's absurd insistence, 'I will not get the vaccine, even if I have to sacrifice all the titles'
Share

मेलबर्न (एजेंसी)। वल्र्ड के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने एक इंटरव्यू में कहा है कि वह किसी भी स्थिति में कोरोना की वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। वह अपने फैसले की हर संभव कीमत चुकाने के लिए भी तैयार हैं। उन्होंने कहा है कि अगर उन्हें भविष्य में होने वाले किसी भी टेनिस टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं लेने दिया जाए तो भी वह वैक्सीन नहीं लगवाएंगे।

उन्होंने कहा, मैं वैक्सीन का विरोधी नहीं हूं, लेकिन इसे लगवाने या न लगवाने का फैसला व्यक्तिगत होना चाहिए। इसे थोपा नहीं जाना चाहिए। अगर वैक्सीन नहीं लगवाने की कीमत विंबलडन और फ्रेंच ओपन जैसे टूर्नामेंट में नहीं खेलना है तो मैं यह कीमत चुकाने के लिए तैयार हूं। मेरे फैसले मेरे सिद्धांतों से जुड़े हुए हैं। मेरे लिए मेरा शरीर किसी भी टाइटल से ज्यादा जरूरी है। मैं कभी वैक्सीन के विरोध में नहीं रहा, लेकिन मैं उस स्वतंत्रता को समर्थन देता हूं जिसमें आप यह तय करें कि आपको कोई चीज अपने शरीर में डलवानी है या नहीं।

बता दें कि जोकोविच अब तक 20 गैंड स्लैम खिताब जीत चुके हैं। इस साल हुए ऑस्ट्रेलियन ओपन के पहले तक सबसे ज्यादा ग्रैंड स्लैम जीतने के मामले में वह राफेल नडाल और रोजर फेडरर के साथ टॉप पर थे। अब राफेल नडाल 21 ग्रैंड स्लैम के साथ इस लिस्ट में पहले नंबर पर आ गए हैं।

दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी को ऑस्ट्रेलिया ओपन खेलने की इजाजत नहीं मिली थी। वे दसवां ऑस्ट्रेलियाई ओपन खिताब जीतने का ख्वाब लेकर ऑस्ट्रेलिया पहुंचे थे।


Share