सरकारी कर्मचारियों को एडवांस में दिवाली गिफ्ट, 4% डीए बढ़ा

DA of employees and pensioners increased in Rajasthan, payment will be done from July 1, 2022
Share

सुबह केंद्र ने घोषणा की, शाम होते-होते राज्य सरकार ने भी कर दिया ऐलान, बेसिक सैलरी का 38% पहुंचा महंगाई भत्ता

नई दिल्ली (एजेंसी)। केंद्र सरकार व राज्य सरकार के कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए अच्छी खबर है। केंद्र सरकार के कर्मचारियों का महंगाई भत्ता (डीए) 4 फीसदी बढ़ाने की घोषणा के कुछ ही घंटों बाद गहलोत सरकार ने भी अपने कर्मचारियों-पेंशनर्स के डीए बढ़ाने की मंजूरी दे दी है। 4 फीसदी डीए बढ़ाया गया है। अब राज्य कर्मचारियों और पेंशनर्स को 1 जुलाई से 38 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिलेगा। अभी तक 34 फीसदी डीए मिल रहा था। यानी कर्मचारियों को तीन महीने का एरियर मिलेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की मीटिंग में इससे जुड़े प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। इस फैसले से केंद्र सरकार के 47 लाख कर्मचारियों और 68 लाख पेंशनर्स को फायदा होगा। बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और अश्विनी वैष्णव ने इस बारे में जानकारी दी। इससे सरकारी खजाने पर 12,852 करोड़ रूपये का बोझ पड़ेगा। इस साल 8,568 करोड़ रूपये का बोझ पड़ेगा। सरकार ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स के आधार पर साल में दो बार अपने कर्मचारियों का डीए तय करती है। जनवरी और जुलाई में डीए संशोधित करती है। जनवरी से डीए में 3 फीसदी का इजाफा किया गया था जिसके बाद यह 34 फीसदी हो गया था। महंगाई को देखते हुए माना जा रहा था कि सरकार इसमें चार फीसदी की बढ़ोतरी कर सकती है। अप्रैल में खुदरा महंगाई आठ साल के रेकॉर्ड पर पहुंच गई थी। इसके बाद इसमें गिरावट आई लेकिन अगस्त में यह फिर सात फीसदी पर पहुंच गई। सरकार अपने कर्मचारियों को महंगाई से राहत देने के लिए डीए में इजाफा करती है।

कितनी बढ़ जाएगी सैलरी

अभी अगर किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 1,8000 रूपये है तो 34 फीसदी के हिसाब से उसे 6,120 रूपये डीए मिलता है। अगर डीए 38 फीसदी हो जाता है तो कर्मचारी को महंगाई भत्ते के तौर पर 6840 रूपये मिलेंगे। यानी उसे 720 रूपये अधिक मिलेंगे। यानी साल के हिसाब से 8,640 रू. का फायदा होगा। इसी तरह अगर किसी सरकारी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 56,000 रू. है तो 38 फीसदी के दर से महंगाई भत्ता 21,280 रू. हो जाएगा। इसमें हर महीने 2240 रू.और पूरे साल के हिसाब से 26,880 रू. का फायदा होगा।


Share