ओआईसी को बेमानी संगठन बताते हुए भारत ने उड़ाई पाक की खिल्ली- चीन को भी दो टूक

Describing OIC as a redundant organization, India ridiculed Pak - China also bluntly
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत ने कहा है कि ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कॉर्पोरेशन (ओआईसी) की मीटिंग में दिए गए बयान और पास किए गए प्रस्ताव बेमतलब है। भारत ने ओआईसी को बतौर संस्था और पाकिस्तान को बतौर इसके अगुवा के तौर पर निष्प्रभावी और बेमानी बताया है।  बैठक में भारत के खिलाफ दी गई बयानबाजी और झूठ फैलाने को लेकर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ये बयान दिया।  अरिंदम बागची ने कहा कि बैठक में भारत के खिलाफ मनगढ़ंत बातें की गई जो आधारहीन है। उन्होंने कहा कि बैठक में जिस तरह आधारहीन और तथ्यहीन बातों के आधार पर प्रस्ताव पारित किए गए, उससे साफ होता है कि बतौर संस्था ओआईसी पूरी तरह निष्फल है।  बागची ने आगे कहा कि ओआईसी की मूर्खता इसी बात से साबित होती है कि वो पाकिस्तान के सामने अल्पसंख्यकों के साथ हुए व्यवहार पर टिप्पणी कर रहे हैं। वही पाकिस्तान जो अल्प संख्यकों और मानवाधिकारों को का लगातार उल्लंघन करता रहा है।विदेश मंत्रालय ने कहा कि जो देश ऐसे संगठनों से जुड़े हैं उन्हें अपने देश की गरिमा के बारे में सोचना चाहिए।  गौरतलब है कि ओआईसी में पाकिस्तान ने भारत की ओर से गलती से चली मिसाइल का मुद्दा भी उठाया।  इस पर ओआईसी के सदस्यों ने संयुक्त जांच कमेटी बनाने की पाकिस्तान की मांग का समर्थन किया।

ओआईसी की बैठक में ये भी प्रस्ताव पारित किया गया कि भारत को पाकिस्तान के साथ मिलकर क्षेत्रिय सुरक्षा की दिशा में काम करना चाहिए। ओआईसी की बैठक में पाकिस्तान ने कश्मीर का भी मुद्दा उठाया था जिसपर चीन के विदेश मंत्री ने पाकिस्तान के पक्ष में बयान दिया था।

चीन के विदेश मंत्री के इस बयान पर सख्त एतराज जताते हुए भारत ने कहा था कि केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर भारत का अंदरूनी मामला और किसी देश को भारत के अंदरूनी मामले पर बोलने का अधिकार नहीं है।


Share