12 राज्यों में फैल चुका डेल्टा प्लस वेरिएंट – ICMR ने कहा- अभी बहुत कम है फैलाव

केरल-महाराष्ट्र में कोरोना के 70% एक्टिव केस
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश में कोरोना वायरस का नया वैरिएंट डेल्टा प्लस धीरे-धीरे पैर पसारना शुरू कर दिया है। कोविड-19 का यह वैरिएंट अब तक 12 राज्यों में फैल चुका है। कुछ दिनों पहले तक इसका प्रसार तीन से चार ही राज्यों तक सीमित था। केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस स्वरूप के बारे में बताते हुए कहा कि देश के 12 राज्यों में यह वैरिएंट मौजूद है।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) की ओर से जारी आंकड़ों में कहा गया है कि अप्रैल, मई और जून के दौरान इक_े किए गए 45,000 से अधिक नमूनों में से 48 मामलों की पहचान की गई है। आईसीएमआर ने यह भी कहा कि डेल्टा प्लस वैरिएंट का प्रसार बहुत कम है। इसे पुणे में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (एनआईवी) में आइसोलेट किया गया है।

केंद्रीय मंत्री ने घबराहट पैदा नहीं करने का किया था आग्रह

आईसीएमआर की ओर से यह अपडेट केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने डॉक्टरों से कोविड-19 संक्रमण की संभावित तीसरी लहर के बारे में घबराहट पैदा नहीं करने का आग्रह किया और जोर देकर कहा कि इसका मूल दृष्टिकोण एहतियात होना चाहिए, घबराहट नहीं। दरअसल केंद्रीय मंत्री यह टिप्पणी एम्स के डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया के उस बयान के बाद आया था जिसमें उन्होंने देश को कोविड-19 की तीसरी लहर और डेल्टा प्लस जैसे नए वैरिएंट के लिए तैयार होने की बात कही थी।

डेल्टा वैरिएंट म्यूटेंट होकर डेल्ट प्लस हुआ

बता दें कि कोरोना वायरस का डेल्टा वैरिएंट म्यूटेंट होकर अब डेल्टा प्लस वैरिएंट बन गया है। जो सबसे पहले भारत में पाया गया था। केंद्र सरकार ने कहा है कि कोरोना वायरस का डेल्टा प्लस वैरिएंट कुल 12 देशों में मौजूद है। इस वैरिएंट इसलिए चिंताजनक है क्योंकि पिछले स्वरूप के मुकाबले यह तेजी से फैलता है। बाकी वैरिएंट की तुलना में इस वायरस की फेफड़ों में मौजूदगी ज्यादा मिली है।

सबसे ज्यादा मामले तीन राज्यों में

डेल्टा प्लस वेरिएंट के ज्यादातर मामले तीन राज्यों- महाराष्ट्र, केरल और मध्य प्रदेश में पाए गए हैं। महाराष्ट्र सरकार ने सोमवार से प्रतिबंधों को कड़ा कर दिया है, जिससे आवश्यक दुकानें सभी दिनों में केवल शाम 4 बजे तक खुली रह सकती हैं। राज्य सरकार की एक अधिसूचना में कहा गया है कि पूरे राज्य को ‘लेवल 3’ प्रतिबंधों के तहत रखा गया है।


Share