तरूण गोगोई का निधन

तरूण गोगोई का निधन
Share

गुवाहाटी (एजेंसी)। असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई का सोमवार को निधन हो गया। वह 86 वर्ष के थे और कोरोना से संक्रमित थे। स्वास्थ्य मंत्री हिमंता बिस्वा शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री के निधन की खबर की पुष्टि। शर्मा ने कहा कि गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (जीएमसीएच) के चिकित्सकों ने शाम पांच बजकर 34 मिनट पर गोगोई के निधन की जानकारी दी।  राज्य के तीन बार मुख्यमंत्री रह चुके गोगोई 25 अगस्त को कोरोना पॉजिटिव पाये गये थे। इसके बाद उन्हें जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था। बीस दिनों तक उपचार चलने के बाद उन्हें घर भेज  दिया गया था। गोगोई को ऑक्सीजन स्तर कम होने के कारण 24 सितंबर को फिर से अस्पताल में भर्ती कराया गया और अक्टूबर के आखिरी सप्ताह में उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी थी।

पूर्व मुख्यमंत्री को एक बार फिर एक नवंबर को इसी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां आज निधन हो गया।  गोगोई के पार्थिव शरीर को कल यहां श्रीमंत शंकरदेवा कलाक्षेत्र में रखा जाएगा, ताकि लोग अंतिम दर्शन कर सकें। शर्मा ने कहा कि उनका अंतिम संस्कार गुवाहाटी में होने की संभावना है।

गोगोई की पत्नी डॉली गोगोई भी बीमार हैं। गोगोई के परिवार में पत्नी के अलावा उनके सांसद पुत्र गौरव, पुत्रवधु, बेटी-दामाद तथा पोते-पोतियां और नाती-नातिन हैं।  इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोगोई के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। मोदी ने ट््वीट करके अपने शोक संदेश में कहा, तरूण गोगोई जी एक लोकप्रिय नेता तथा अनुभवी प्रशासक थे। उन्होंने केंद्र के साथ-साथ असम में भी लंबी राजनीतिक पारी खेली। उनके निधन से दुखी हूं। उनके परिजनों तथा समर्थकों के प्रति मेरी संवेदनाएं। ओम शांति।


Share