दरिदंगी की सारी हदें पार

दरिदंगी की सारी हदें पार
Share

बदायूं सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले में दो आरोपी गिरफ्तार, SO निलंबित

बदायूं: उत्तर प्रदेश में बदायूं पुलिस ने उघैती थाना अंतर्गत एक गाँव में 50 वर्षीय आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की हत्या और सामूहिक बलात्कार के मामले में तीन में से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।तीसरा और मुख्य आरोपी अभी फरार है।

इस बीच, उगाही पुलिस स्टेशन के स्टेशन ऑफिसर राघवेंद्र प्रताप सिंह को ड्यूटी से बाहर करने के आरोप में निलंबित कर दिया गया है क्योंकि उसने महिला के बलात्कार और हत्या की सूचना मिलने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं।

संकल्प शर्मा, SSP बदायूं ने कहा कि “एसओ ने यह जानकारी प्राप्त करने के बाद समय पर कार्रवाई नहीं की कि मृत महिला को अभियुक्तों द्वारा उसके घर लाया गया था। साथ ही यह भी पता चलता है कि उसने बलात्कार की जानकारी को दबाने की कोशिश की थी।

यह भीषण घटना तब हुई जब आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के रूप में काम करने वाली 50 वर्षीय पीड़िता रविवार शाम एक मंदिर में पूजा करने गई थी।

पोस्टमार्टम में हुआ खुलासा 

पोस्टमार्टम से पता चला कि महिला के निजी अंगों में लोहे की रॉड से वार किये गए थे। हमले के समय महिला की पसलियां भी टूट गईं तथा उसके बाएं फेफड़े बुरी तरह से प्रभवित हुए। रिपोर्ट में अत्यधिक रक्तस्राव व सदमा महिला की मौत का कारण है।

महिला के बेटे ने आरोप लगाया कि उसकी मां का शव रात में उनके घर में एक पुजारी, ड्राइवर सहित तीन लोगों ने फेंक दिया।

आरोप है कि घटना की जानकारी मिलने के बाद भी स्थानीय पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। भीषण घटना के 18 घंटे बाद सोमवार को शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।


Share