8 साल बाद एशियन गेम्स में लौटा क्रिकेट, टी-20 फॉर्मेट के लिए बीसीसीआई नहीं भेजेगा टीम

Cricket returns to Asian Games after 8 years, BCCI will not send team for T20 format
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)।  इस साल होने वाली एशियन गेम्स में भारतीय पुरूष और महिला क्रिकेट टीम भाग नहीं लेगी। दरअसल एशियन गेम्स इस साल 10 से 25 सितंबर के बीच चीन के हांगझाऊ में होना है। इस साल से एशियन गेम्स में पुरूष और महिलाओं के टी-20 क्रिकेट फॉर्मेट को फिर से शामिल किया गया है। एशियन गेम्स में आखिरी बार 2014 में क्रिकेट को शामिल किया गया था।

रायटर के मुताबिक फिर से एशियन गेम्स में शामिल किए गए टी-20 क्रिकेट में भारतीय पुरूष और महिला टीम नहीं खेलेगी। चूंकि इस साल ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर में पुरूषों का टी-20 वल्र्ड कप होना है। ऐसे में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड नहीं चाहता है कि खिलाडिय़ों को इंजरी हो। इससे बचने के लिए ही भारतीय क्रिकेट टीम हांगझाऊ में होने वाले एशियन गेम्स में नहीं खेलने का विचार कर रहा है। वहीं पुरूष टीम के अलावा महिला टीम भी एशियन गेम्स से पीछे हट सकती है, क्योंकि भारतीय टीम को उसी दौरान इंग्लैंड के दौरे पर जाना है। जहां भारतीय महिला टीम को 3 वनडे और 3 टी-20 सीरीज में भाग लेना है।

एशियाड में खेलने पर बाद में फैसला

हालांकि, एशियाड में भारतीय पुरूष और महिला टीम के खेलने पर आधिकारिक तौर पर अभी कुछ नहीं कहा गया है। बीसीसीआई के सेक्रेटरी जय शाह ने कहा कि, पुरूष और महिला क्रिकेट टीम को एशियाड में भेजने को लेकर अंतिम फैसला हम बाद में उस वक्त के अपने कमिंटमेंट को देखते हुए लेंगे।

दो बार एशियन गेम्स में क्रिकेट शामिल, भारत ने नहीं लिया भाग

अब तक दो बार एशियन गेम्स में क्रिकेट को शामिल किया गया है। 2010 और 2014 एशियन गेम्स में क्रिकेट को शामिल किया गया था, लेकिन दोनों ही बार भारतीय टीम ने बिजी शेड्यूल का हवाला देकर भाग लेने से इंकार कर दिया था। वहीं 2018 इंडोनेशिया गेम्स से क्रिकेट को हटा लिया गया था। 2010 में पुरूषों में बांग्लादेश ने गोल्ड मेडल अपने नाम किया था, जबकि महिलओं में पाकिस्तान ने बाजी मारी थी। 2014 एशियन गेम्स में श्रीलंका पुरूष टीम ने गोल्ड मेडल जीता था, जबकि महिलाओं का गोल्ड मेडल पाकिस्तान के नाम रहा था।


Share