कोलकाता में देश की पहली अंडरवॉटर मेट्रो, जल्द सफर कर पाएंगे यात्री

कोलकाता में देश की पहली अंडरवॉटर मेट्रो, जल्द सफर कर पाएंगे यात्री
Share

कोलकाता (एजेंसी)। भारत की पहली अंडरवॉटर मेट्रो सर्विस जून 2023 तक शुरू हो सकती है। ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर प्रोजेक्ट के तहत यह अपनी तरह की अलग मेट्रो सेवा होगी। कोलकाता मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने सोमवार को कहा कि साल्ट लेक से हावड़ा तक यह प्रोजेक्ट जल्द ही पूरा हो जाएगा और यात्री सफर कर सकेंगे। कोलकाता के रास्त यह रूट हुगली नदी के नीचे होगा। अभी सेक्टर वी और सियालदह के बीच में इस रूट पर मेट्रो चलती है लेकिन यह अंडरवॉटर नहीं है।

कोलकाता मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने अपने बयान में कहा, ‘जून 2023 तक सियालदह से हावड़ा तक काम पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।’ इस रूट की कुल लंबाई 15.55 किलोमीटर है जिसमें से 9.3 किलोमीटर में यह पहले से चालू है। बाकी के 7.25 किलोमीटर की दूरी में यह एक साल से कम समय में संचालित होने लगेगा।

हावड़ा और  सियालदह रेलवे स्टेशन काफी व्यवस्त रहते हैं। ऐसे में इस रूट के खुल जाने से यात्रियों को काफी राहत मिलेगी। उनके लिए इस बिजी रूट में आना-जाना आसान हो जाएगा। इस सूट में करीब 10.8 किलोमीटर अंडरग्राउंड रूट है और 5.8 किलोमीटर एलिवेटेड है। पहले कहा गया था कि यह प्रोजेक्ट दिसंबर 2021 तक ही पूरा हो जाएगा।

टनल के काम के वक्त  दुर्घटना की वजह से प्रोजेक्ट पूरा होने में देर हो गई।

टनल के काम की वजह से बहुत सारे घर क्रैक हो गए थे। वहीं अगस्त 2019 में टनल बोरिंस मशीन एक एक्विफर से टकरा गई थी जिसकी वजह से कई इमारतें गिर गई थीं।


Share