कोरोना की नई गाईडलाइन जारी, 31 से लागू होगी, संडे कर्फ्यू खत्म, स्कूल खुलेंगे

Corona's new guideline released, will be applicable from 31, Sunday curfew ends, schools will open
Share

1 फरवरी से 10वीं-12वीं और 10 फरवरी से कक्षा 6-9 तक के विद्यार्थी आएंगे स्कूल, 10 बजे तक खुलेंगे बाजार

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान सरकार ने कोरोना की नई गाइडलाइन जारी करते हुए पाबंदियों पर कुछ छूट दी है। प्रदेश भर के शहरी क्षेत्रों में 1 फरवरी से 10वीं से लेकर 12वीं तक के स्कूल खोलने का फैसला किया है। 10 फरवरी से छठी से नवीं क्लास के बच्चों को स्कूल बुलाया जाएगा। बाजार अब रात 10 बजे तक खुल सकेंगे। प्रदेश भर में संडे कर्फ्यू को खत्म कर दिया है। गृह विभाग ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है। नई गाइडलाइन में शहरों से संडे कफ्र्यू हटा दिया है। ग्रामीण इलाकों से संडे कर्फ्यू पहले से हटाया जा चुका है। इसके साथ ही बाजार खोलने का समय दो घंटे बढ़ा दिया है। अभी तक रात 8 बजे तक बाजार बंद करने का प्रावधान है। इसे बढ़ाकर रात 10 बजे कर दिया है। नई गाइडलाइन 31 जनवरी से लागू होगी, इसलिए इस रविवार को शहरी क्षेत्रों में कर्फ्यू रहेगा, अगले रविवार से छूट मिलेगी।

नाइट कफ्र्यू और दूसरी पाबंदियां जारी रहेंगी

नाइट कफ्र्यू सहित दूसरी पाबंंदियां फिलहाल जारी रहेंगी। महाराष्ट्र, हरियाणा, चंडीगढ़ सहित कई जगह पाबंदियों में छूट दी गई है। चंडीगढ़ प्रशासन ने 10वीं से 12वीं तक के स्कूल खोलने की मंजूरी दी है, कर्फ्यू हटाया है।

पाबंदियों में छूट पर हर सप्ताह रिव्यू

राज्य सरकार पाबंदियों पर हर सप्ताह रिव्यू कर रही है। पहले हर सप्ताह पाबंदियां बढ़ाईं, लेकिन अब एक्सपर्ट्स के सुझाव से कुछ छूट देने की तैयारी की जा रही है। हर सप्ताह कोरोना के हालात के हिसाब से पाबंदियों में ढील का रिव्यू होगा। आगे चलकर रेस्टोरेंट, जिम, थिएटर और शादियों में लोगों की लिमिट को बढ़ाने पर भी विचार हो सकता है।

बिना वैक्सीन वालों के लिए पाबंदियां

सरकार ने 31 जनवरी तक सबके लिए वैक्सीन लगाना अनिवार्य किया है। 1 फरवरी से बिना वैक्सीन लगे लोगों के लिए भी गाइडलाइन में पाबंदियों का प्रावधान होगा। सार्वजनिक स्थानों, बाजारों में जाने के लिए वैक्सीन की दोनों डोज का प्रावधान किया है। सरकारी योजनाओं के लाभ से भी वंचित किया जा सकता है। एक संभावना यह भी है कि बिना वैक्सीन वालों पर पाबंदियां लगाने के लिए अलग से गाइडलाइन भी जारी की जा सकती है।


Share