कोरोना नरम पड़ा तो ब्लैक फंगस ढा रहा कहर- देशभर में 11,717 केस, गुजरात-महाराष्ट्र में हैं आधे

ब्लैक फंगस vs व्हाइट फंगस
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत में कोरोना के कहर के बीच म्यूकोरमाइकोसिस यानी ब्लैक फंगस भी पैर पसारता जा रहा है। ताजा सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में ब्लैक फंगस के अब तक 11717 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। इनमें से सबसे ज्यादा मामले गुजरात, महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश में हैं।

बीते हफ्ते कोरोना मरीजों में बढ़ते ब्लैक फंगस के मामलों के मद्देनजर केंद्र सरकार ने सभी राज्यों से इसे ‘महामारी’ घोषित करने को कहा था और साथ में सभी मामलों को दर्ज करने के लिए भी कहा गया था। पीएम नरेंद्र मोदी ने भी  कहा था कि यह बीमारी भारत में जारी कोरोना संकट के खिलाफ लड़ाई में नई चुनौती बन गई है।

गुजरात में ब्लैक फंगस के सबसे ज्यादा 2859 मामले दर्ज किए गए हैं। इसके बाद महाराष्ट्र में 2770 और फिर आंध्र प्रदेश में 768 केस आए हैं।

केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने एक ट्वीट कर यह जानकारी दी है। उन्होंने यह भी बताया कि बुधवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को म्यूकोरमाइकोसिस के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा के 29250 वायल आवंटित किए हैं। ये आवंटन राज्य में मौजूद बीमारी के मरीजों की संख्या के आधार पर किया गया है।

म्यूकरमाइकिस एक फंगल इन्फेक्शन है। यह उन लोगों को प्रभावित करता है, जिनका इम्यून सिस्टम किसी बीमारी या इसके इलाज की वजह से कमजोर हो जाता है। ये फंगस हवा में मौजूद होता है और ऐसे लोगों में पहुंचकर उनको संक्रमित करता है। हालांकि, यह जरूरी नहीं है कि यह संक्रमण सिर्फ कोरोना मरीजों को ही होता है, यह अन्य लोगों को भी संक्रमित कर सकता है।


Share