नगर निगम चुनावों में कोरोना हैल्थ प्रोटोकॉल का पालन जरूरी : मुख्यमंत्री

मूल विभाग में पद रिक्त नहीं होने पर नियुक्ति के लिए अब नहीं करना होगा इंतजार
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने कहा है कि कोविड-19 महामारी के कारण पूरी दुनिया संकट के दौर से गुजर रही है। चिकित्सा विशेषज्ञों की सलाह अनुसार वर्तमान में मास्क पहनना और सामाजिक दूरी रखना ही इस बीमारी से बचाव के अचूक उपाय हैं।   गहलोत ने कहा कि राजस्थान के तीन शहरों जयपुर, जोधपुर और कोटा के 6 नगर निगमों के 560 वार्डो के लिए चुनावी प्रक्रिया चल रही है जो 11 नवम्बर, 2020 को उप महापौर पदों के निर्वाचन के साथ सम्पन्न होगी। कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है, ऐसे में हम सभी के लिए आमजन की जीवन रक्षा सर्वोच्च है।

मुख्यमंत्री ने नगर निगम चुनाव प्रत्याशियों और उनके सहयोगियों से अनुरोध किया है कि चुनाव प्रचार के दौरान विशेष सतर्कता बरतें, ताकि स्वयं तथा अन्य लोगों की जान खतरे में न पड़े।  मुख्यमंत्री ने कहा कि जयपुर, जोधपुर, कोटा सहित 11 जिलों में कोरोना के चलते पहले से ही धारा 144 लागू है तथा 5 से ज्यादा लोगों के इक_ा होने पर रोक है। कोरोना के दौर में सुरक्षित चुनाव के लिए राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा प्रत्याशियों के लिए गाइडलाइन्स जारी की गई हैं। भारत सरकार तथा राज्य सरकार द्वारा पहले से ही दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। चुनाव प्रचार के दौरान किसी भी रूप में भीड़ नहीं जुटने दें।

प्रत्याशी प्रचार के लिए अपने साथ एक व्यक्ति से ज्यादा को नहीं रखें। वर्तमान में मोबाइल फोन एवं वर्चुअल माध्यमों से बेहतरीन प्रचार किया जा सकता है।  गहलोत ने कहा कि वक्त की मांग है कि हम सबको मास्क लगाकर और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही चुनाव प्रक्रिया पूर्ण करनी है। जनप्रतिनिधि बनने की आकांक्षा रखने वालों का दायित्व और भी ज्यादा है।

उन्होंने विश्वास जताया कि सभी राजनैतिक दल, प्रत्याशी एवं उनके सहयोगी, मतदाता तथा चुनाव ड्यूटी में नियोजित कार्मिक कोरोना की इस विकट चुनौती के बावजूद सभी सावधानियां अपनाते हुए अपने लोकतांत्रिक कर्तव्य का पालन करेंगे।


Share