जयपुर में कोरोना बन रहा काल : अब तक 48470 मरीज

गृह मंत्रालय की नई गाइडलाइंस - भीड़ रोकने पर फोकस
Share

सरकार ने 1 दिसंबर से 31 दिसंबर की अवधि के लिए निगरानी, ​​रोकथाम और सावधानी के लिए दिशानिर्देश जारी किए। “राजस्थान कोविड़ -19 के खिलाफ अपनी लड़ाई में एक महत्वपूर्ण मोड़ पर है। पिछले कुछ हफ्तों में, नए मामलों की संख्या बढ़ रही है।

नई गाइडलाइन के मुताबिक , राज्य के कंटेनमेंट जोन में राज्य सरकार लॉकडाउन लगा सकती है। ऐसे इलाकों में लॉकडाउन लगाया जा सकता हैं जहां कोरोना संक्रमित ज्यादा मिल रहे हैं। जहां लॉकडाउन लगाया जाएगा, वहां मेडिकल सुविधाओं के अलावा सभी अन्य सुविधाएं बंद रहेगी। ऐसे इलाकों के लिये जयपुर में सर्वे शुरू कर दिया गया हैं।

अभी 8 इलाके ऐसे हैं, जहां हर दिन 25 से 35 मरीज मिल रहे हैं। पहले मरीजों के घरों का सर्वे  किया जायेगा ,उसके बाद ही गलियों को सील किया जायेगा। जयपुर राज्य का सबसे संक्रमित जिला है। सोमवार को जिले में 745 नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है।

यहाँ है सरकार की नजर:

जयपुर के सोडाला,  मालवीय नगर,   जगतपुरा , झोटवाड़ा,मानसरोवर, वैशाली नगर और सांगानेर से सबसे ज्यादा कोरोना मरीज मिल रहे हैं। बढ़ते मरीजों ने स्वास्थ्य विभाग को चिंतिंत कर दिया है।   मानसरोवर में 546 , वहीं सोडाला से 433,  वैशाली नगर से 396, मालवीय नगर से 429,सांगानेर से 263 व जगतपुरा से 280 कोरोना मरीज दर्ज किये गये हैं।

प्रमुख सचिव,अभय कुमार ने कहा –

हाल के त्योहारी सीजन, सर्दी की शुरुआत और कोविड़ -19 दिशा-निर्देशों के पालन में ढिलाई जैसे कुछ कारकों का संगम, स्थिति के जोखिम को बढ़ाता है, इस प्रकार स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे पर दबाव डाल सकता है, ” प्रमुख सचिव, अभय कुमार ने कहा।

कुमार ने कहा, “प्रत्येक नागरिक को सावधानी बरतनी चाहिए व निर्धारित कोविड़ नियंत्रण रणनीति का सख्ती से पालन करना चाहिए।”

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, कोविड़ -19: आठ राज्यों ने अधिकतम नई मौतों की रिपोर्ट दी है

राज्य में मौजूदा स्थिति को ध्यान में रखते हुए, 31 दिसंबर तक कंटेमेंट ज़ोन में लॉकडाउन लागू किया जाएगा। “कमजोर और उच्च घटना वाले क्षेत्र में प्रभावी ज़ोन का प्रभावी सीमांकन वायरस को नियंत्रित करने वाले ट्रांसमिशन की श्रृंखला को तोड़ने के लिए महत्वपूर्ण है।

केंद्र द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के बाद कलेक्टरों द्वारा ज़ोन का सीमांकन किया जाएगा। इन क्षेत्रों में केवल आवश्यक सेवाओं की अनुमति दी जाएगी और घर-घर निगरानी की जाएगी। ”

राज्य सरकार ने  कोटा, जयपुर, जोधपुर, बीकानेर, उदयपुर, अजमेर ,नागौर, अलवर, भीलवाड़ा, पाली, और गंगानगर में रात्रि 8 से सुबह 6बजे तक कर्फ्यू लगाने के निर्देश दिये हैं।

सभी स्कूल, कॉलेज, शैक्षिक और कोचिंग संस्थान 31 दिसंबर तक बंद रहेंगे। इसके अलावा पार्क,सिनेमा हॉल, सामाजिक या धार्मिक, या किसी भी बड़े मण्डली की अनुमति नहीं है।


Share