ईडी के समन के खिलाफ कांग्रेस का  ‘सत्याग्रह’, भाजपा बोली- ये नकली गांधी

All decisions of National Herald are not evidence of Vora's taking, claims ED sources
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को सोमवार को ईडी के सामने पेश होना है। इसी दिन कांग्रेस ने देशभर में प्रदर्शन करके ताकत दिखाने का प्लान बनाया है। कांग्रेस नेता मनिकम टैगोर ने कहा कि जांच एजेंसी के 25 कार्यालयों के बाहर कांग्रेस नेता प्रदर्शन करेंगे। कांग्रेस का आरोप है कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी को साजिशन फंसाया जा रहा है।

भाजपा ने भी कांग्रेस  पर पलटवार करते हुए कहा कि राहुल गांधी और सोनिया गांधी दोनों ही जमानत पर बाहर हैं। कल राहुल गांधी को ईडी के सामने पेश होना है और इससे पहले कांग्रेस ड्रामा कर रही है। वे अपने सभी नेताओं को दिल्ली बुला रहे हैं। इस ड्रामे का क्या मतलब है? भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, अगर दिग्विजय सिंह जैसे नेता प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं तो इसका क्या मतलब है?

पात्रा ने कहा, आप प्रेस कॉन्फ्रेंस करके ड्रामा क्यों कर रह हैं? ईडी के सामने खुद को सही साबित कीजिए। सत्याग्रह क्या होता है? इन नकली गांधियों द्वारा नकली सत्याग्रह को देखकर गांधीजी को भी शर्म आ जाएगी। राहुल गांधी को कानून का उल्लंघन नहीं करना चाहिए  क्योंकि यह राजनीति का मामला नहीं है।

बता दें कि राहुल गांधी को 2 जून को पूछताछ के लिए बुलाया गया था लेकिन कांग्रेस नेता ने दूसरी तारीख की मांग की थी क्योंकि उस वक्त वह देश से बाहर थे। वहीं सोनिया गांधी को 8 जून को बुलाया गया था। लेकिन कोरोना की वजह से उनकी भी तारीख आगे बढ़ाकर 23 जून कर दी गई है।

बता दें कि कांग्रेस ने अपने शीर्ष नेताओं और सांसदों से कहा है कि वे नई दिल्ली स्थिति ईडी के मुख्यालय तक मार्च निकालें और सरकार द्वारा एजेंसियों के कथित दुरूपयोग के खिलाफ सत्याग्रह करें। कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा, कांग्रेस ने 90 करोड़ रू. का लोन नेशनल हेराल्ड को दिया था क्योंकि अखबार उस समय नुकसान में चल रहा था। देश में ऐसा कोई कानून नहीं है जो कि यह कहता हो कि कोई राजनीतिक दल अखबार को कर्ज नहीं दे सकता है।


Share