कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव के लिए लगाए पर्यवेक्षक, बंसल-देव को राजस्थान की जिम्मेदारी

कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव के लिए लगाए पर्यवेक्षक, बंसल-देव को राजस्थान की जिम्मेदारी
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। राजस्थान राज्यसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने चुनाव पर्यवेक्षक लगा दिए है। पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल और छत्तीसगढ़ के कांग्रेस नेता टीएस सिंह देव को चुनाव पर्यवेक्षक की जिम्मेदारी दी है। रविवार को पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने पर्यवेक्षकों की सूची जारी की। जिसमें राजस्थान के लिए दोनों नेताओं को चुनाव पर्यवेक्षक लगाया गया है। माना जा रहा है कि टीएस सिंह देव और पवन बंसल जल्द ही राजस्थान आएंगे और उदयपुर में चल रहे कांग्रेस के बाड़ेबंदी में शामिल होंगे। राजस्थान राज्यसभा के चुनाव 10 जून को होने हैं। कांग्रेस ने रणदीप सुरजेवाला, मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी को अपना उम्मीदवार बनाया है। दोनों ही पर्यवेक्षक अगले एक-दो दिन में उदयपुर पहुंच कर कांग्रेस विधायक और समर्थित विधायकों को कैम्प में संबोधित करेंगे।

4 सीटों के लिए 10 जून को होगा मतदान : गौरतलब है कि राज्यसभा की 4 सीटों के लिए 10 जून को मतदान होगा। इस बार राजस्थान की 4 सीटों पर 5 प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े हैं, जिनमें भाजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी डॉ. सुभाष चंद्रा के खड़े होने से मुकाबला रोचक हो गया है। 2 सीटों पर कांग्रेस और एक सीट पर भाजपा की जीत तय है, लेकिन चौथी सीट के लिए दोनों ही दलों को निर्दलीयों और छोटे दलों के विधायक को का समर्थन लेना होगा। राजस्थान के लिए कांग्रेस से रणदीप सुरजेवाला, मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी मैदान में हैं तो भाजपा से घनश्याम तिवाड़ी को टिकट दिया गया है. इसके साथ ही भाजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी डॉ. सुभाष चंद्रा भी चुनाव मैदान में हैं।

भाजपा ने केंद्रीय मंत्री तोमर को बनाया इंचार्ज : कांग्रेस से पहले ही भाजपा ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर को राजस्थान भाजपा राज्यसभा चुनाव प्रभारी बना दिया था। केंद्रीय मंत्री तोमर जयपुर पहुंच गए है। माना जा रहा है कि सोमवार से प्रशिक्षण के नाम पर भाजपा के विधायकों की बाड़ेबंदी को संबोधित करेंगे। जयपुर पहुंचने पर केंद्रीय मंत्री तोमर ने भाजपा विधायकों की बाड़ेबंदी से इंकार किया था। तोमर ने कहा कि लोकतंत्र में विधायकों की बाड़ेबंदी नहीं होनी चाहिए।


Share