ढाई महीने में दूसरी बार फिसले सीएम शिवराज – उत्तराखंड में सीढिय़ों से गिरे, मुस्कुराए और चल दिए

जब बादलों में फंस गया शिवराज का हेलीकॉप्टर
Share

भोपाल (एजेंसी)। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सीढिय़ों से फिसलकर गिर पड़े। साथ चल रहे सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें उठाया और फिर सभी चल दिए। ष्टरू शिवराज 18 अप्रैल को उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश के भतीजे के रिसेप्शन में पहुंचे थे। ढाई महीने पहले भी वे फिसल गए थे। तब उनके पैर में चोट आई थी। वह हादसा म.प्र. के सीहोर जिले के प्रवास के दौरान हुआ था। रिसेप्शन काशीपुर के उधम सिंह नगर के होटल में था। इसमें शरीक होने के लिए कई राज्यों से भाजपा के मुख्यमंत्री और बड़े नेता आए हुए थे। मुख्यमंत्री शिवराज भी पहुंचे थे। जैसे ही वह मेन गेट से आगे बढ़े और रिसेप्शन हॉल में जाने वाली सीढिय़ों पर पहुंचे, तभी उनका पैर फिसल गया। शिवराज सिंह चौहान को उत्तराखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक और सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें तुरंत उठा लिया। उठने के बाद सीएम मुस्कुराकर आगे चल दिए।

सीहोर में पैर में घुस गया था सरिया : इसी साल जनवरी में सीएम शिवराज के पैर में लोहे का सरिया घुस गया था। सीहोर में मुख्यमंत्री शाम को शाहगंज इलाके में पार्टी कार्यकर्ता महेश पटेल के बेटे के निधन पर नारायणपुर में पुष्पांजलि अर्पित करने गए थे। पहले फ्लोर पर दिवंगत की फोटो रखी हुई थी। ष्टरू जब सीढ़ी से होकर वहां जा रहे थे, तभी उनका पैर रोशनी के लिए खुली जाली में फंस गया था। उनके बांए पैर में चोट आई थी। साल 1998-99 में जब वे सांसद थे, तब वे सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गए थे।


Share