सीएम शिंदे का दावा- महाराष्ट्र में बड़ी साजिश कर रही थी पीएफआई , बैन पर मनसे का जश्न

CM Shinde warns, 'Pakistan will not tolerate Zindabad' on Shivaji's soil.
Share

नासिक (एजेंसी)। पॉपुलर फ्रट ऑफ इंडिया यानी पीएफआई पर प्रतिबंध के बाद राजनीतिक प्रतिक्रियाएं जारी हैं। अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने केंद्र सरकार के इस फैसला का समर्थन किया है। साथ ही दावा किया है कि संगठन राज्य में कुछ बड़ी घटना की योजना बना रहा था। केंद्रीय गृह मंत्रालय की तरफ से बुधवार को पीएफआई और सहयोगी संगठनों को पांच साल के लिए बैन कर दिया था।

बुधवार को नासिक में पत्रकारों से बातचीत के दौरान शिंदे ने कहा कि संगठन के सदस्य पुणे में भी शांति भंग करने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने उनकी मंसूबों को नाकाम कर दिया। इस दौरान उन्होंने पीएफआई पर प्रतिबंध लगाने के फैसले पर गृहमंत्री अमित शाह का धन्यवाद किया। छापामार कार्रवाई के दौरान महाराष्ट्र से भी बड़ी संख्या में कार्यकर्ता गिरफ्तार किए गए थे। उन्होंने कहा, पीएफआई और उससे जुड़े संगठन गंभीर अपराधों में शामिल पाए गए थे। हाल ही में संगठन टेरर फंडिंग, हत्याओं, संविधान के अपमान, सांप्रदायिक सद्भावना और देश की एकता को बिगाडऩे में सक्रिय हो गया था। यह भी सामने आया था कि संगठन महाराष्ट्र में भी कोई गंभीर योजना तैयार कर रहा था।

मनसे ने बांटे लड्डू

राज ठाकरे की अगुवाई वाली महाराष्ट्र नव निर्माण सेना ने पीएफआई पर प्रतिबंध का जश्न मनाया। पार्टी कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर लड्डू बांटे और पटाखे फोड़े। 6 दिनों के अंतराल में दो बार हुई छापामार कार्रवाई में 13 राज्यों से सैंकड़ों लोगों को गिरफ्तार किया गया था।


Share