सीएम बोले-बजट बनाने से पहले समुद्र मंथन की तरह मंथन किया – नए जिलों के लिए कमेटी की घोषणा

सीएम गहलोत ने किया राज्यस्तरीय अभियान का शुभारंभ
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट भाषण पर रिप्लाई देते हुए प्रदेश में नए जिले बनाने के लिए कमेटी बनाने की घोषणा की है। सीएम ने कहा कि कमेटी 6 महीने में रिपोर्ट देगी। सीएम ने 200 विधानसभा क्षेत्रों में 10 करोड़ की नई सड़के बनाने की भी घोषणा की। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 23 फरवरी को वित्तीय वर्ष 2022-23 का बजट पेश किया था। सीएम गहलोत ने कहा कि हमने समुद्र मंथन की तरह मंथन किया। 45 हजार लोगों से राय ली गई। बजट बनाने से पूर्व किसानों, व्यापरियों और आमजन से सुझाव लिए गए।

बजट से पहले सभी की राय ली गई

सीएम ने कहा कि जिस तरह से समुद्र मंथन के बाद अमृत निकला था। उसी तरह मंथन करने के बाद बजट पेश किया गया है। समुद्र मंथन की तरह मंथन किया है। तब जाकर विधानसभा में बजट पेश किया गया। 45 हजार लोगों से राय ली गई। सीएम गहलोत ने नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया। सीएम ने कहा कि खड़े होकर कोई भी आंकड़े पेश कर सकता है। विपक्ष कहता है कि कोई काम नहीं हुआ। आंकड़ों पर कमियों पर बहस होनी चाहिए।

कर्जमाफी पर 22 लाख लोगों ने धन्यवाद दिया

पूरे बजट की देशभर में चर्चा हो रही है। विपक्ष कहता है कि कोई काम नहीं हो रहा। सीएम ने कहा कि केंद्र की अनुमति के बिना लोन नहीं ले सकते। हम धन की व्यवस्था करेंगे। हम इकोनामी की 15 लाख करोड़ तक ले जाएंगे। सीएम ने कर्जमाफी पर कहा कि 22 लाख लोग धन्यवाद दे रहे हैं। राहुल गांधी ने 10 दिन में कर्जमाफी का वादा किया था। हमने 3 दिन में कर्जमाफी कर दी। सभी आंकड़े आनलाइन है। कोई भी देख सकता है। राष्ट्रीयकृत बैंकों को लोन माफ करने लिए केंद्र सरकार को आगे आना चाहिए। सीएम ने कहा कि मोदी सरकार किसानों का कर्ज माफ करना नहीं चाहती है।


Share