पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाने पर सीएम गहलोत का यू-टर्न, कहा- सब कम कर रहे हैं, हमें भी करने पड़ेंगे

आमजन को मिली राहत; पेट्रोल डीजल कीमतों में आई गिरावट
Share

जोधपुर (कार्यालय संवाददाता)। पेट्रोल-डीजल पर वैट कम नहीं करने पर अड़े मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आखिरकार पलट गए हैं। केन्द्र की पहल के बाद कई राज्य सरकार ने वैट दर को कम किया है। मंगलवार को जोधपुर के जालेली फौजदार गांव में आयोजित सभा में गहलोत ने कहा- जब सब राज्यों ने पेट्रोल-डीजल के दाम कम कर दिए हैं, तो हमें भी कम करने पड़ेंगे।

गहलोत लगातार इस बात पर अड़े रहे कि इससे राज्य की आमदनी प्रभावित होगी। राज्य की आर्थिक स्थिति पहले से खराब है। ऐसे में हम पेट्रोल-डीजल पर वैट कम नहीं करेंगे। केन्द्र सरकार ने पहले टैक्स में कटौती कर आमजन को राहत प्रदान की। इसके तर्ज पर कई राज्य सरकारों ने भी वैट कम करना शुरू कर दिया। इसके बावजूद गहलोत अड़े रहे। आखिरकार कांग्रेस शासित पंजाब ने भी वैट को कम कर राजस्थान का उदाहरण दे दिया कि यहां पेट्रोल-डीजल सबसे अधिक महंगे हैं। इसके बाद गहलोत पर दबाव काफी अधिक बढ़ गया कि वे भी दाम को कम करे।

केंद्र ने पेट्रोल-डीजल पर अधिक टैक्स लगा लूटा

एक दिवसीय जोधपुर यात्रा पर पहुंचे गहलोत ने शहर से सटे जालेली फौजदार गांव में प्रशासन गांवों के संग शिविर का अवलोकन कर वहां मौजूद लोगों से उनके काम होने या नहीं होने के बारे में जानकारी ली। इसके बाद आयोजित सभा में गहलोत ने कहा कि हमारी सरकार भी पेट्रोल व डीजल पर वैट कम कर लोगों को राहत प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर जबरन बहुत अधिक टैक्स लगा लोगों को बहुत लूटा है। अब थोड़ी सी राहत प्रदान की है। केन्द्र सरकार को पेट्रोल-डीजल पर टैक्स को और कम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में वैट कम करने से होने वाले नुकसान को राज्य सरकार वहन करेगी।


Share