चीनी कंपनी का सामने आया बड़ा खेल

चीनी कंपनी का सामने आया बड़ा खेल
Share

 2 करोड़ स्मार्टफोन्स में मालवेयर डालकर कमाए करोड़ो

नई दिल्ली (एजेंसी)।  स्मार्टफोन निर्माता कंपनी जियोनी को लेकर चीन की एक कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। इस फैसले के मुताबिक जियोनी मोबाइल की सहयोगी कंपनी ने 2 करोड़ से ज्यादा स्मार्टफोन्स में जानबूझकर ट्रोजन हॉर्स मालवेयर डालने का काम किया है। इस मालवेयर के जरिए कंपनी ने यूजर्स को बिना इजाजत के फोन में अनचाहे विज्ञापन दिखाए हैं जिससे कंपनी ने करोड़ो रूपये कमाए हैं।

इस तरह कंपनी ने फोन्स में भेजा मालवेयर

अदालत के फैसले के मुताबिक, 2 करोड़ से ज्यादा जियोनी फोन्स दिसंबर 2018 और अक्टूबर 2019 के बीच एक एप्प के जरिए जानबूझकर ट्रोजन हॉर्स मैलवेयर से संक्रमित किए गए थे। कमाई के एक टूल के रूप में कंपनी इस एप्प का इस्तेमाल कर रही थी। यह मालवेयर ‘स्टोरी लॉक स्क्रीनÓ एप्प को अपडेट करने का लालच देकर फोन में डाला गया था और यह काम जियोनी की एक सब्सिडियरी ने किया था।

रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी ने दिसंबर 2018 से अक्टूबर 2019 की अवधि में ट्रोजन हॉर्स के जरिए 42 लाख डॉलर (करीब 31 करोड़) की कमाई की थी। ऐसे में कंपनी के द्वारा सिर्फ 13 लाख डॉलर (करीब 9.59 करोड़) खर्चा किए गए थे, यानी कंपनी ने 13 लाख डॉलर खर्च कर 42 लाख डॉलर की कमाई की है। इस मामले में 4 अधिकारियों को अवैध रूप से मोबाइल डिवाइसिस को नियंत्रित करने का दोषी पाया गया और प्रत्येक को 2 लाख युआन (करीब 22 लाख) जुर्माने के साथ 3 से 3.5 साल की जेल की सजा सुनाई गई है।

बता दें कि सिर्फ जियोनी ऐसी कंपनी नहीं है जिसने जानबूझकर वायरस डालकर कमाई करने का तरीका अपनाया है। इससे पहले भी कई चाइनीज और छोटी कंपनियां इस तरह के हथकंडे अपनाती आर्ई हैं। जियोनी से पहले इनफीनिक्स और टेक्नो जैसी मोबाइल मेकर कंपनियां भी ऐसे ही मामले में दोषी पाई गई थीं।


Share