चीन के वीबो और बायडू ऐप बैन कई और पर गिरेगी गाज

चीन के वीबो और बायडू ऐप बैन कई और पर गिरेगी गाज
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत सरकार ने चीन के दो सबसे पॉप्युलर ऐप वीबो और बायडू को ब्लॉक कर दिया है। बायडू सर्च चीन का अपना सर्च इंजन है जो काफी हद तक गूगल की तरह काम करता है। वहीं, वीबो को चीन का ट्विटर कहा जाता है। बैन के बाद अब ये दोनों ऐप गूगल प्ले स्टोर और ऐपल ऐप स्टोर से भी हटा दिए जाएंगे। सूत्रों की मानें तो ये दोनों उन्हीं 47 ऐप्स में शामिल हैं, जिन्हें सरकार ने 27 जुलाई को बैन किया था।
दुनियाभर में वीबो के 50 करोड़ यूजर
वीबो को चीन की सीना कॉर्पोरेशन में साल 2009 में लॉन्च किया था। दुनियाभर में वीबो के 50 करोड़ यूजर हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीबो के एक स्टार यूजर में से एक थे। मोदी ने चीन के इस माइक्रो ब्लॉगिंग प्लैटफॉर्म पर साल 2015 में अपनी चीन यात्रा से पहले अकाउंट बनाया था। मोदी ने वीबो पर अपने सबसे पहले पोस्ट में वीबो के जरिए चीनी लोगों से कनेक्ट होने की बात कही थी।
बायडू का प्लान हुए फेल
बायडू का बात करें तो यह भारत में अपनी पकड़ मजबूत करने की कोशिश कर रहा था। बायडू का फेसमोजी कीबोर्ड काफी पॉप्युलर है। कंपनी के सीईओ रॉबिन ली भी भारतीय यूजर्स के बीच ऐप की पहुंच को बढ़ाने के सिलसिले में इसी साल जनवरी में आईआईटी मद्रास पहुंचे थे। यात्रा के दौरान ली ने कहा था कि वह खासतौर से आर्टिफिशल इंटेलिजेंस और मोबाइल कंप्यूटिंग के क्षेत्र में भारतीय टेक्नॉलजी इंस्टिट्यूशन्स के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं।
ऐप स्टोर से हटाए जाएंगे दोनों ऐप
सूत्रों ने बताया कि सरकार ने इन दोनों ऐप को गूगल प्ले स्टोर और ऐपल स्टोर से भी हटाने का आदेश दे दिया है। इसके साथ ही देश के इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स को इन ऐप्स को ब्लॉक करने के निर्देश दे दिए गए हैं।
जून और जुलाई में भी बैन हुए कई बड़े ऐप
भारत ने 29 जून को टिकटॉक समेत 58 ऐप को बैन कर दिया था। ऐप को बैन करने की वजह देश की सुरक्षा के लिए जरूरी बताया गया था। बैन किए गए ऐप्स में शेयर इट, सी ब्राउजर, वीचैट और कैम स्कैनर जैसे कई और ऐप भी शामिल थे। इसके बाद एक बार फिर से भारत सरकार ने पिछले महीने 47 अन्य ऐप्स को भी बैन किया। इन ऐप्स के बारे में कहा गया कि ये पहले बैन किए गए 59 ऐप्स के क्लोन के तौर पर काम कर रहे हैं और इनसे यूजर्स के डेटा की सेफ्टी पर बड़ा खतरा है।
250 से ज्यादा ऐप्स पर नजर
बीते दिनों खबर आई थी कि सरकार के रडार पर 250 और चीनी ऐप हैं जिन्हें आगे बैन किया जा सकता है। इसमें पॉप्युलर गेम पबजी भी शामिल है। खबरों की मानें तो सरकार अभी इन ऐप्स की जांच कर रही है। इनके काम करने तरीके में अगर कोई खामी पाई गई तो आने वाले कुछ हफ्तों में और चीनी ऐप्स के बैन होने की खबरें सुनने को मिल सकती हैं।


Share