चीन को लगेगा एक और झटका – अब लद्दाख को हर मौसम में जोड़े रखने वाली सुरंग बनेगी

चीन को लगेगा एक और झटका
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। चीन को और मिर्ची लगने वाली है। जोजिला सुरंग खुलने के बाद बौखलाए चीन के लिए वास्तव में एक और बुरी खबर है। भारत अपने बाकी इलाके से लद्दाख को जोडऩे के लिए एक और सड़क बनाने पर विचार कर रहा है। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने रक्षा मंत्रालय से इस संबंध में राय भी मांगी है। इस बार हिमाचल प्रदेश के शिलॉन्ग या शिंकुला पहाड़ी दर्रे से होकर लद्दाख तक ऐसी सड़क बनाने पर विचार हो रहा है जो हर मौसम में कामयाब रहे।

इस सड़क की योजना बनाने का एक और कारण है कि नए रास्ते से लद्दाख पहुंचने में 15 से 20 प्रतिशत वक्त बच जाएगा। इसके लिए एक सुरंग बनाई जाएगी जो रोहतांग दर्रे के अटल टनल के आसपास ही होगी। अटल टनल हिमाचल प्रदेश में मनाली को लेह, लद्दाख और जम्मू-कश्मीर को जोड़ता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही इसका उद्घाटन करने वाले हैं।

प्रस्तावित शिंगो ला टनल का प्रॉजेक्ट भी जोजिला टनल प्रॉजेक्ट जैसा ही है। अगस्त महीने में हैदराबाद की कंपनी मेघा इंजीनियरिंग ऐंड इन्फ्रास्ट्रक्चर ने 4,509.50 करोड़ रूपये के सबसे कम रकम की बोली लगाकर यह टनल अपने नाम कर लिया। वैसे लार्सन ऐंड टुब्रो और इरकॉन इंटरनैशल जेवी ने भी बोली लगाई थी।

यह प्रॉजेक्ट रणनीतिक रूप से इसलिए बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि जोजिला पास श्रीनगर-करगिल-लेह नैशनल हाइवे पर 11,578 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। हालांकि, भारी बर्फबारी के मौसम में इस सुरंग से आवाजाही संभव नहीं हो पाती है। बहरहाल, जोजिला टन प्रॉजेक्ट में अगले महीने से काम शुरू होने की संभावना है। नैशनल हाइवेज ऐंड इन्फ्रास्ट्रक्चर डिवेलपमेंट कॉर्पोरेशन पहाड़ी इलाकों में सड़क बनवाने के काम में जुटा है। सड़क परिवहन मंत्रालय के इस विभाग ने हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में कई और सुरंग बनाने की परियोजनाएं विभिन्न कंपनियों को सौंप चुका है।


Share