एक सप्ताह में बच्चो की चौथी कोरोना वैक्सीन, एक्सपर्ट ग्रुप ने दी सीरम इंस्टीट्यूट की कोवोवैक्स को मंजूरी, 12 से 17 साल वाले बच्चो को लगेगी

Children aged 7 to 12 years will get Kovovax vaccine, DCGI approves
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश में 12-17 साल की उम्र वालों के लिए एक और नई कोरोना वैक्सीन मिल गई है। नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन इम्युनाइजेशन (एनटीएजीआई) ने शुक्रवार को इस आयुवर्ग के लिए सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोरोना वैक्सीन कोवोवैक्स को मंजूरी दी है। एक सप्ताह में देश के अंदर ब’चों की तीसरी वैक्सीन को मंजूरी दी गई है। इससे पहले तीन वैक्सीन मंगलवार को मंजूर की गई थीं।

इससे पहले केंद्र सरकार ने गुरूवार को घोषणा की थी कि ब’चों के वैक्सीनेशन को लेकर वह शुक्रवार को एक अधिसूचना जारी करेगी। यह अधिसूचना शुक्रवार को एनटीएजीआई की बैठक में की जाने वाली सिफारिशों पर आधारित होगी। अब एनटीएजीआई की बैठक खत्म हो चुकी है और सभी को सरकार की अधिसूचना का इंतजार है।

प्र.म. मोदी चाहते हैं ब’चों को जल्द लगे वैक्सीन

दरअसल गुरूवार को सरकार की घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सभी ब’चों को जल्द से जल्द वैक्सीन लगाए जाने पर जोर देने के चलते की गई थी। प्र.म. मोदी चाहते हैं कि ब’चों के वैक्सीनेशन के लिए स्कूलों में स्पेशल कैंपेन चलाए जाएं। उन्होंने इस काम को सरकार की प्राथमिकता सूची में शामिल किया है।

तीन दिन पहले भी तीन वैक्सीन हुई थीं मंजूर

भारतीय दवा नियामक डीसीजीआई ने मंगलवार को भी तीन कोरोना वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दी थी। डीसीजीआई ने 5 से 12 साल की उम्र वाले ब’चों के लिए बॉयोलॉजिकल-ई कंपनी की कॉर्बेवैक्स और 6 से 12 साल की उम्र वालों के लिए भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को मंजूरी दी थी। इसके अलावा 12 साल से अधिक की उम्र के ब’चों के लिए जायडस कैडिला की जायकोव डी वैक्सीन को भी इमरजेंसी यूज की मंजूरी दी गई थी।

कोवैक्सिन अब 6 साल से 100+ तक सभी के लिए

कोवैक्सीन अब 6 साल से लेकर 100+ की उम्र वालों तक के लिए उपलब्ध है। हालांकि अलग-अलग एज ग्रूप में नाम एक ही होने के बावजूद वैक्सीन में अंतर है। बॉयोलॉजिकल-ई की कॉर्बेवैक्स स्वदेशी रूप से डेवलप की गई पहली आरबीडी प्रोटीन सब-यूनिट वैक्सीन है और 12 से 14 साल तक की उम्र के ब’चों को पहले ही लगाई जा रही है।

12-17 साल के ब’चों को कुल 1&.58 करोड़ डोज लगे

देश में ब’चों को कोरोना वैक्सीन लगाने की शुरूआत इस साल & जनवरी से हुई थी। शुरूआत में 15 से 17 साल के ब’चों को कोवैक्सिन ही लगाई जा रही थी। बाद में 12-14 साल ऐज ग्रूप के ब’चों के लिए कोरोना वैक्सीनेशन शुरू किया गया था। हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, अब तक 12 से 17 साल के आयुवर्ग वालों को कुल 1&.58 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं।


Share