मुख्यमंत्री ने बजट भाषण का छूटा पेज अगले दिन पढ़ा

Gehlot reached Jaisalmer, targeted fiercely at BJP
Share

जयपुर (कासं)। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बुधवार को बजट भाषण का पेज नंबर 10 को पढऩा ही भूल गए थे। ऐसे में गुरूवार को विधानसभा का प्रश्नकाल खत्म होते ही मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य से जुड़ी कल छूटी हुई बजट घोषणाएं सदन में कीं। गहलोत ने विधानसभा स्पीकर से पहले इसकी अनुमति ली और फिर कल छूटे हुए पेज में लिखी घोषणाओं को सदन में पढ़कर सुनाया। संभवत: यह पहला मौका है जब बजट भाषण में कोई पेज छूट गया हो और बाद में पढ़ा गया हो। दरअसल, कल 109 पेज के बजट  भाषण के पेज नंबर 10 पर चिकित्सा महकमे से जुड़ी घोषणाओं से जुड़ा पेज मुख्यमंत्री ने पढ़ा नहीं। मुख्यमंत्री पेज नंबर 9 से सीधे पेज 11 पर चले गए, इस वजह से पेज 10 की घोषणाएं  छूट गई। मुख्यमंत्री से हुई इस चूक पर सदन में विधायकों के बीच खूब चर्चा है।

बुधवार को ये घोषणाएं सदन में पढऩा भूले सीएम

  • शाहपुरा-भीलवाड़ा, नोखा-बीकानेर, हिण्डौन-करौली,सागवाड़ा-डूंगरपुर, सवाई माधोपुर शहर, नीमकाथाना सीकर,शिवगंज-सिरोही, बालोतरा-बाड़मेर व प्रतापनगर जोधपुर के चिकित्सा संस्थानों को जिला अस्पताल में क्रमोन्नत किया जाएगा।
  • कुचामन सिटी, लाडनूं-नागौर, उदयपुरवाटी-झुंझुनूं, हलैना भरतपुर, मनियां (राजाखेड़ा)-धौलपुर व कोलायत-बीकानेर सहित 10 नए ट्रॉमा सेंटर खोले जाएंगे।
  • 40 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों और 25 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के भवन निर्माण के लिए लगभग 206 करोड़ खर्च होंगे
  • कोटा में 150 बेड क्षमता का नया जिला अस्पताल बनेगा, जोधपुर में मण्डोर अस्पताल को जिला अस्पताल में क्रमोन्नत किया जाएगा।
  • राज्य के विभिन्न चिकित्सालयों में कुल 1 हजार बेड्स की वृद्धि की जाएगी।
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत लगभग 11 हजार प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र व उप- स्वास्थ्य केन्द्रों को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप में विकसित कर 12 प्रकार की विभिन्न प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाएं फेजमैनर में उपलब्ध करवाई जाएगी। इसके लिए 11 हजार से ज्यादा कम्युनिटी हेल्थ ऑफिर्सस की भर्ती की जा रही है।

Share