मुख्यमंत्री गहलोत का आरोप- शाह के दफ्तर में रची थी सरकार गिराने की साजिश

Share

गजेंद्र सिंह शेखावत ने हड़पा निवेशकों का पैसा

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर बड़ा हमला बोला है। गहलोत ने प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत में कहा- नॉर्थ ब्लॉक में अमित शाह के ऑफिस में बैठकर राजस्थान सरकार गिराने का षड्यंत्र रचा गया था। अमित शाह फेल हो गए। षड्यंत्र में शामिल एक मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत तो राजस्थान के ही थे। उनकी आवाज तो टेप में आई थी। गजेंद्र सिंह शेखावत अगर आवाज का नमूना दें तो पोल खुल जाएगी। गहलोत ने शेखावत पर निवेशकों का पैसा हड़पने वाली क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी के साथ संबंध होने का आरोप लगाया।

जनता से लूटे पैसे वापस करने की क्या तरकीब है?

गहलोत ने कहा- किस रूप में ये नेता और केंद्रीय मंत्री बन गए। पश्चिमी राजस्थान के लोग बाड़मेर-जैसलमेर तक रो रहे हैं। आदर्श सोसाइटी, नवजीवन सोसाइटी की तरह तीसरी संजीवनी सोसाइटी के चार लोग जेल में बैठे हैं। अगर इनमें ईमानदारी है तो बताएं कि जनता से लूटे हुए पैसे वापस देने की क्या तरकीब है। ऐसे लोग केंद्र में मंत्री बनकर बैठे हैं।

अमित शाह के विधायक तक सहयोग को तैयार नहीं

अमित शाह के 2023 तक सरकार नहीं गिराने के सवाल पर गहलोत ने कहा- उनके हाथ में है क्या सरकार गिराना। उन्होंने प्रयास करके देख लिया। वे फेल हो गए। इनकी कितनी दुर्गति हुई, इनके खुद के एमएलए सहयोग करने को तैयार नहीं हुए। उस समय राजस्थान से भाजपा विधायकों को पोरबंदर ले जाने के लिए दो-दो प्लेन भेजे गए थे। एक प्लेन मुश्किल से गया, दूसरा खाली गया। इससे ज्यादा शर्मनाक बात क्या होगी? भाजपा के एमएलए पर शक करने लग गए कि कांग्रेस के टूटे न टूटे हमारे खुद के विधायक नहीं टूट जाएं। जनता ने साथ दिया तो राजस्थान में माहौल ऐसा बन गया कि कोई इनका साथ देने को तैयार नहीं था। चाहे इनकी पार्टी के एमएलए ही क्यों न हो। यह हमारी बहुत बड़ी जीत थी।

सरकार गिराने में शामिल लोगों की पोल खुल गई

गहलोत ने कहा- सरकार गिराने का षड्यंत्र धर्मेंद्र प्रधान के घर में रचा गया था। उनके साथी संगी थे, जिन्होंने सारी व्यवस्थाएं की थीं। उनकी पोल खुल गई है। सरकार का बचना राजस्थानवासियों के लिए तो राहत की बात है। पूरे देश में चर्चा होती है कि राजस्थान की क्राइसिस को फेल किया। राजस्थान ने जो इतिहास बनाया है, वह लोकतंत्र को बचाने के काम आएगा। ये लोग लोकतंत्र की हत्या कर रहे थे। राजस्थान की जनता और विधायकों ने एनडीए सरकार का षड्यंत्र फेल कर दिया। षड्यंत्र में शामिल एक मंत्री तो राजस्थान के ही थे। उन्होंने ओएसडी लोकेश शर्मा पर दिल्ली में मुकदमा कर दिया।


Share