केंद्र सरकार ने बढ़ाई अनापत्ति प्रमाण पत्र की अवधि

केंद्र सरकार ने बढ़ाई अनापत्ति प्रमाण पत्र की अवधि
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारत सरकार ने 410 पाकिस्तानी हिंदुओं को बड़ी राहत दी है। ये सभी लॉन्ग टर्म वीजा पर भारत में ही रह रहे थे लेकिन साल की शुरूआत में कुछ दिनों के लिए पाकिस्तान गए थे। वो पाकिस्तान पहुंचे तो भारत में कोविड-19 के मद्देनजर आवाजाही पर पाबंदी लग गई। इस कारण वो दोबारा भारत नहीं लौट सके। अब भारत सरकार ने उन्हें उस दिन से 15 दिनों के लिए भारत वापसी को लेकर अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी कर दिया।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 31 जुलाई को इस संबंध में एक ऑफिस मेमोरेंडम विदेश मंत्रालय और ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन के डायरेक्टर को भेजा। पाकिस्तान में फंसे प्रवासियों में 33 साल की जनता माली भी शामिल हैं जो मीरपुर खास में रह रहीं अपनी बीमार मां को देखने अपने पति और तीन बच्चों के साथ फरवरी में पाकिस्तान गई थीं। जून के आखिरी हफ्ते में भारत-पाकिस्तान ने एक-दूसरे देश में फंसे नागरिकों को निकालने के लिए शटल सर्विस की व्यवस्था की थी। चूंकि उनके पति भारतीय नागरिक हैं, इसलिए वो और उनके बच्चे तो जून के आखिरी हफ्ते में जोधपुर लौट आए थे, लेकिन पाकिस्तानी नागरिक होने के नाते जनता माली को भारत में प्रवेश नहीं होने दिया गया। वो 2007 से ही लॉन्ग टर्म वीजा पर जोधपुर में रह रही हैं।

दरअसल, 31 जुलाई को जारी ऑफिस मेमोरेंडम की पृष्ठभूमि 9 मई को ही बन गई थी जब इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग तकनीकी दिक्कतों के कारण पाकिस्तानी हिंदुओं का वीजा की अवधि बढ़ाने का फैसला कर लिया गया। तब विदेश मंत्रालय ने गृह मंत्रालय से 17 जून के उसके ऑर्डर की समीक्षा करने का आग्रह किया था। विदेश मंत्रालय ने इस आग्रह के साथ 410 पाकिस्तानी नागरिकों का डीटेल गृह मंत्रालय को भेजा था। फिर इन्हें अटारी चेक पोस्ट से भारत में प्रवेश देने का फैसला किया गया।


Share