जातीय जनगणना- PM से मिलकर खुश नजर आए नीतीश-तेजस्वी

जातीय जनगणना- PM से मिलकर खुश नजर आए नीतीश-तेजस्वी
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)।  बिहार में पिछले काफी दिनों से जातिगत जनगणना   कराने को लेकर सियासी पारा चढ़ा हुआ है। इस बीच सोमवार को सीएम नीतीश कुमार  समेत 10 पार्टियों के 11 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी   से मुलाकात की।

बिहार के सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री ने हमारी पूरी बात सुनी। सभी ने जातिगत जनगणना के पक्ष में एक-एक बात कही है। उन्होंने हमारी बात को नकारा नहीं है, हमने कहा है कि इस पर विचार करके आप निर्णय लें। वहीं, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव  और बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी भी प्र.म. द्वारा गंभीरता से जातीय जनगणना का मुद्दा सुनने से खुश नजर आए। । बहरहाल, सीएम नीतीश कुमार ने प्र.म. मोदी से मिलने के बाद कहा कि 10 पार्टियों के 11 लोग प्र.म. से मिले हैं। जातीय जनगणना को लेकर बिहार की सभी पार्टियों एक मत हैं। हम लोगों ने सभी तरह की बातें उसने की हैं। उन्होंने हमारी बात को गंभीरता से सुना है। हालांकि उन्होंने इस बारे में कोई फैसला नहीं किया है। इसके साथ नीतीश कुमार ने कहा कि जैसे ही इस मामले पर कोई बात होगी। इसकी जानकारी सबको मिल जाएगी। जातिगत जनगणना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने के बाद आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि प्र.म. ने हमारी बात गंभीरता से सुनी है, अब हम लोगों को उनके निर्णय का इंतजार है। उन्होंने कहा कि जातिगत जनगणना काम राष्ट्रीय हित में है और इसी वजह से बिहार के 10 दल एक साथ प्र.म. मोदी से मिले। ये ऐतिहासिक काम होने जा रहा है।

तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से समय मांगा और हमें अब इंतजार उनके फैसले का रहेगा। राष्ट्रीय मुद्दे पर हम सब एक हैं। इससे पहले कोरोना काल में भी हमने मुख्यमंत्री से कहा था कि हम आपके साथ हैं।


Share